Breaking News

संचार हर किसी के जीवन का एक प्रमुख हिस्सा हो सकता है-डॉ प्रेम कुमार

लखनऊ। केएमसी भाषा विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग में आयोजित किये जा रहे पाँच दिवसीय ओरिएंटेशन प्रोग्राम (अभिविन्यास सत्र) के चौथे दिन डॉ नीलू शर्मा, सहायक प्रोफ़ेसर, एमिटी विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों से न्यू मीडिया और डिजिटल टेक्नोलॉजीस की प्रासंगिकता के बारे में बात की। उन्होंने बताया कि भले ही आप दुनिया के किसी अन्य हिस्से में हों, डिजिटल तकनीक आपको दोस्तों, परिवार से जुड़ने और दूर से काम करने की अनुमति देती है। आप शब्दों, ऑडियो, वीडियो और अन्य #मीडिया का उपयोग करके संवाद कर सकते हैं।

सॉफ्टवेयर, वेबसाइट और ऐप्स सभी को उपयोगकर्ताओं को सामाजिक बनाने में सहायता करने के लिए विकसित किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि सभी तीन प्रकार के अर्जित मीडिया, पेड मीडिया और स्वामित्व वाला मीडिया को डिजिटल मीडिया में लागू करने के लिए उपयोगी रणनीतियाँ बनाती हैं, जिसके परिणामस्वरूप ब्रांड पहचान, संलग्न करने की क्षमता और रूपांतरण में अपेक्षित परिणाम प्राप्त होते हैं।

दूसरे सत्र में भारतीय सूचना सेवा अधिकारी (IIS) डॉ. प्रेम कुमार ने पत्रकारिता एवं जनसंचार के छात्रों को सरकारी क्षेत्र में रोज़गार के अवसर के बारे में जानकारी दी। जिसमे सबसे पहले उन्होंने UPSC के माध्यम से कैरियर बनाने के लिये आवश्यक सभी बारीकियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मास कम्युनिकेशन एक अच्छा करियर विकल्प है जो आपको रेडियो, पीआर, पत्रकारिता, फिल्म निर्माण और कई तरह के करियर विकल्प प्रदान करता है। संचार हर किसी के जीवन का एक प्रमुख हिस्सा हो सकता है।

डॉ. प्रेम ने छात्रों को उनके कैरियर में आगे आने वाली चुनौतियों के बारे में भी बताया और यह भी सुझाव दिया कि समस्याओं का सामना डट कर करना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन डॉ. शचीन्द्र शेखर, सहायक आचार्य, पत्रकारिता एवं जनसंचार ने किया। कार्यक्रम में डॉ सैयद क़ाजिम रिज़वी, डॉ मोहम्मद नसीब व छात्रों में सौरभ, आयुषी, अरिशा, नदीम, आदि विधार्थी उपस्थित रहे।

About Samar Saleel

Check Also

विधिक सहायता केंद्र व जिला विधिक प्राधिकरण के संयुक्त तत्वाधान में कार्यक्रम आयोजित, अनुच्छेद 14 से 32 के मौलिक अधिकारों की दी जानकारी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ विश्वविद्यालय, विधि संकाय की प्रतिष्ठित संस्था विधिक ...