Breaking News

विकास दूबे के एनकाउंटर के साथ ही उसके संरक्षणदाताओं के राज भी दफन: हरिओम यादव

फिरोजाबाद। समाजवादी पार्टी के सिरसागंज सीट से विधायक हरिओम यादव ने कुख्यात अपराधी विकास दूबे के एनकाउंटर पर कहा है कि इस एनकाउंटर पर सवाल उठना लाजमी है, क्योंकि इसमें पारदर्शिता नही बरती गयी है। एनकाउंटर की कहानी में काफी झोल है।

उन्होंने कहा कि अपराधी को सजा मिलना जरूरी है लेकिन अपराधी को कौन संरक्षण दे रहा है इससे पर्दा हटना भी बेहद जरूरी है।

कानपुर में मुठभेड़ के दौरान मारा गया विकास

दबिश के दौरान पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर एक सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले पांच लाख के इनामी बदमाश विकास को मध्यप्रदेश के उज्जैन से अरेस्ट किया था। एसटीएफ के साथ वहां से कानपुर वापस लौटते समय रास्ते में कानपुर में मुठभेड़ में उसकी मौत हो गयी। पुलिस की कहानी के मुताबिक रास्ते में कार पलटी और विकास ने एक दारोग़ा की रिवाल्वर छीनकर भागने की कोशिश की, जिसमें वह मारा गया। लेकिन पुलिस की इस थ्योरी पर सवाल उठ रहे है।

क्या कहा कि सपा विधायक ने

सपा विधायक हरिओम यादव ने कहा कि अपराधी को दंड मिले, यह जरूरी है और विकास दूबे के एनकाउंटर से हर आदमी खुश भी है। लेकिन जो घटनाक्रम रहा उससे एनकाउंटर पर सवाल उठना लाजमी है।

विधायक ने कहा कि विकास के एनकाउंटर से उससे किन-किन राजनेताओं के संबंध थे, इस राज का भी एनकाउंटर हो गया है। इसलिए इस मामले की जांच हाईकोर्ट या फिर सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज से करानी चाहिए। सपा विधायक ने यह भी कहा कि अपराधी की कोई जाति नही होती इसलिए विकास दूबे को लेकर पूरी जाति को परेशान करना ठीक नहीं है।

रिपोर्ट-अरविंद शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

बिधूना : सीएचसी के प्रसव कक्ष में लगेगी एसी, क्वालिटी सर्किल बैठक में पाये गये गैप्स को भरने पर हुई चर्चा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बिधूना। औरैया जिले के कस्बा बिधूना में स्थित ...