अमेरिका: हार मानने को तैयार नहीं डोनाल्ड ट्रंप, कहा- मुझे मिले 7 करोड़ से ज्यादा वैध वोट

अमेरिका को नया राष्ट्रपति मिल गया है। डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन ने राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल मिली है। पीएम मोदी ने भी अपने ट्विटर हैंडल से अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन को जीत की बधाई दी है और भारत-अमेरिका रिश्ते में नई मजबूती लाने की बात कही है। वहीं भारतीय मूल की कमला हैरिस को उपराष्ट्रपति के रूप में चुना गया है। वहीं, वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव प्रक्रिया में धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए खुद की जीत का दावा कर दिया है।

डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, ‘पर्यवेक्षकों को काउंटिंग रूम में घुसने की इजाजत नहीं दी गई। मैंने चुनाव जीता है। मुझे 7 करोड़ 10 लाख वोट मिले हैं। सबसे बुरी बात यह है कि पर्यवेक्षकों को काउंटिंग रूम देखने की इजाजत नहीं दी गई। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है। बड़ी संख्या में मेल इन बैलेट्स को लोगों तक पहुंचाया गया, जबकि उन्होंने यह नहीं मांगा था।’

ट्रंप ने नहीं मानी हार (फाइल फोटो)

हालांकि, ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट के नीचे एक बयान लगाकर उसकी वैधता को चुनौती दी है। ट्विटर ने अपने बयान में कहा है, ‘चुनावी धोखाधड़ी के बारे में यह दावा विवादित है।’ वहीं, एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ‘7 करोड़ 10 लाख वैध वोट। अमेरिकी इतिहास में मौजूदा राष्ट्रपति को मिलने वाला सबसे अधिक वोट।’

दरअसल, रिपब्लिकन पार्टी ने आरोप लगाया था कि बड़ी संख्या मेल इन बैलेट्स निर्धारित समय 8 बजे के बाद आए। ट्रंप रिपब्लिकन पार्टी से आते हैं। पार्टी ने कहा, नियमों के मुताबिक वोटों की गिनती का समय समाप्त हो चुका था। इसलिए इनकी गिनती नहीं होनी चाहिए थी।

वहीं, रिपब्लिकन के इस दावे को लेकर पेंसिलवानिया की एक अदालत ने कहा था कि अगर किसी बैलेट को चुनाव के दिन से पहले भेजा गया है तो अगर वो वोट चुनाव के दिन यानी कि 3 नवंबर के 3 दिन बाद भी मिलता है तो उसकी गिनती की जा सकती है।

Loading...

जो बाइडन बने अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति.

इससे पहले, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन को गलत तरीके से राष्ट्रपति पद का दावा करने के खिलाफ चेतावनी दी। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, जो बाइडन को राष्ट्रपति के कार्यालय पर गलत दावा नहीं करना चाहिए। मैं भी वह दावा कर सकता था। कानूनी कार्यवाही अभी शुरू हो रही है।

बता दें कि अमेरिका में 46वें राष्ट्रपति के चयन के लिए हुए चुनाव का परिणाम आ गया है। जो बाइडन अमेरिका के अगले राष्ट्रपति चुने गए हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से बाइडन ने 290 इलेक्टोरल वोट हासिल किए वहीं, उनके प्रतिद्वंद्वी रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को 214 वोट मिले। इसी के साथ ही तीन नवंबर को चुनाव के बाद शुरू हुई गहमागहमी समाप्त हो गई और अमेरिका के इस चुनावी नाटक का पटाक्षेप हो गया।

भारतीय मूल की कमला हैरिस ने भी इस चुनाव में जीत के साथ इतिहास रच दिया है। वो पहली ऐसी महिला हैं जो अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद पर आसीन होंगी। भारत के लिए भी गर्व की बात है कि भारतीय मूल की एक महिला अमेरिकी उपराष्ट्रपति का पद संभालेंगी।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

पॉलिसी दरों पर RBI का फैसला, RTGS को 24x7x365 उपलब्ध कराने का किया ऐलान- सस्ती EMI के लिए अभी करना होगा इंतजार

आरबीआई एमपीसी की तीन दिन से जारी बैठक आज समाप्त हो गई है। बैठक में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *