Breaking News

स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने का प्रयास


रिपोर्ट-डॉ. दिलीप अग्निहोत्री

उत्तर प्रदेश में कोरोना के दृष्टिगत स्वास्थ सेवाओं का विस्तार किया गया। प्रतिदिन बीस हजार टेस्टिंग क्षमता का लक्ष्य पहले ही प्राप्त कर लिया गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे लगतर बढ़ाने के निर्देश दिया। कहा कि टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न संस्थानों में उपलब्ध संसाधनों का पूरा उपयोग किया जाए। ट्रूनैट मशीनों तथा रैपिड एन्टीजेन टेस्ट मशीनों को पूरी क्षमता से संचालित करते हुए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाएं। संक्रमण पर नियंत्रण के लिए निजी चिकित्सालयों में ट्रेूनैट मशीनों के प्रयोग के बढ़ावा दिया जाए। रविवार को प्रदेश में बाइस हजार से अधिक नमूने जांच हेतु संग्रहित किए गए। अब प्रदेश में पच्चीस सरकारी तथा सत्रह निजी प्रयोगशालाएं टेस्टिंग कार्य हेतु उपलब्ध हैं।

मुख्यमंत्री ने कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना के कार्य को तेज गति से जारी रखने के निर्देश भी दिए है। कहा कि सभी विभागों एवं संस्थाओं में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित की जाए। निजी चिकित्सालयों को हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए प्रेरित किया जाए। अस्पताल में कोविड हेल्प डेस्क अनिवार्य रूप से स्थापित की जाएगी। दो गज की दूरी मास्क जरूरी को अभियान के रूप में संचालित करना भी आवश्यक है। योगी ने इसके व्यापक प्रचार प्रसार के निर्देश दिए है। फील्ड में तैनात शासकीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी बचाव के प्रति सजग रहना होगा। स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग को सर्विलांस व्यवस्था सुदृढ़ के योगी ने निर्देश दिए। इससे इन्सेफेलाइटिस पर प्रभावी रोक लगाई जा सकती है।

Loading...

सर्विलांस के दौरान सर्विलांस टीम द्वारा घर घर कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में हैण्डबिल भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने पूरे जुलाई माह में संचालित किए जाने वाले संचार रोग नियंत्रण अभियान की तैयारियों की भी समीक्षा की। निर्देश दिए कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र आदि को संचारी रोग के सम्बन्ध में सतर्क रखा जाए। मानव संसाधन को इस सम्बन्ध में प्रशिक्षित रखते हुए एम्बुलेंस आदि की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। संचारी रोगों से बचाव के प्रति लोगों को न जागरूक भी किया जाएगा। इसके लिए प्रचार प्रसार का व्यापक अभियान संचालित होगा। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग,विकास प्राधिकरणों तथा स्थानीय निकायों को शहरी इलाकों में तथा पंचायतीराज विभाग एवं ग्राम्य विकास विभाग को ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता का वृहद अभियान संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस अभियान में सभी सरकारी विभागों तथा निजी कार्यालयों की सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित कराई जाए।

फाॅगिंग तथा एन्टी लार्वा रसायनों का छिड़काव प्रभावी ढंग से किया जाएगा। सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रभावी रोक लगाई जाएगी। महिला और बाल विकास विभाग महिलाओं को पुष्टाहार की सुचारु उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए उन्हें पोषण के सम्बन्ध में जागरूक किया जाएगा।उन्होंने कहा कि पेयजल की आपूर्ति को सुव्यवस्थित बनाए रखते हुए लोगों को पानी गरम कर तथा छानकर पीने के लिए जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा योगी ने समय से पहले मानसून आने के दृष्टिगत बाढ़ नियंत्रण के सम्बन्ध में पूरी सतर्कता के निर्देश दिए। गौ आश्रय स्थलों की व्यवस्था को सुदृढ़ करते हुए गौवंश के लिए चारे की सुचारु व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

भाजपा-कांग्रेस की सियासी जंग से अखिलेश पशोपेश में!

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान सभा के चुनाव मार्च 2022 में प्रस्तावित हैं। चुनावों में अभी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *