Breaking News

अवैध कब्जों की शिकायतों पर करें त्वरित कार्यवाही:डीएम

बहराइच. राजस्व कार्यो की मासिक समीक्षा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अजयदीप सिंह ने निर्देश दिया कि सम्बन्धित विभाग तहसीलों से समन्वय स्थापित कर मांग के अनुरूप राजस्व वसूली सुनिश्चित करायें। साथ ही बैंक देयों की वसूली की समीक्षा के दौरान लीड बैंक प्रबन्धक को निर्देश दिया कि तहसील व ब्लाकवार संचालित बैंक शाखाओं का विवरण उपलब्ध कराएं। इस दैरान हर्जाना वसूली की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने तहसीलों को निर्देश दिया कि 115सी की कार्यवाही में कब्ज़ा हटवाये जाने के साथ ही जुर्माना भी वसूला जाय।

स्टाम्प देयों की वसूली की समीक्षा के दौरान निर्देश दिया गया कि सभी तहसीलदार स्टाम्प लिपिक से मिलान कराकर आख्या उपलब्ध कराएं। तहसीलों को यह भी निर्देश दिया गया कि बड़े बकायेदारों से वसूली के लिए प्रभावी कार्ययोजना तैयार कर वसूली की कार्यवाही की जाय। इसके साथ ही तहसीलों को यह भी निर्देश दिया गया कि बड़े बकायेदारों के बैंक खातों को सीज़ कराने की भी कार्यवाही सुनिश्चित करें। संग्रह वसूली की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देश दिया कि अमीनवार वसूली की समीक्षा करें और मानक से कम वसूली करने वाले कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही करें। एसडीएम व तहसीलदार को निर्देशित करते हुए डीएम ने कहा कि नियमित रूप से अमीनों द्वारा की गयी वसूली की समीक्षा करते रहें और यह सुनिश्चित करें कि सभी अमीनों द्वारा मानक के अनुसार वसूली की जाय।

स्थानीय निकाय राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने नगर मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह को निर्देश दिया कि नगर पालिका परिषद बहराइच के आय स्रोतों की विस्तृत जांच कर आख्या उपलब्ध कराएं। जबकि बांट-माप विभाग की समीक्षा के दौरान अतिरिक्त मजिट्रेट पंकज कुमार को निर्देश दिया कि बांट-माप कार्यालय का विस्तृत निरीक्षण कर विभागीय कार्यो तथा विभाग से सम्बन्धित वादों की अद्यतन स्थिति के सम्बन्ध में आख्या उपलब्ध कराएं। जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि विभागों द्वारा जारी की गयी आरसी की वसूली माह मार्च के अन्त तक सुनिश्चित कराएं।

भूमि आवंटन कार्य की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने तहसीलों को निर्देश दिया कि पट्टे की भूमि का शत-प्रतिशत सत्यापन कर एक सप्ताह के अन्दर आख्या उपलब्ध कराएं। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि भूमि आवंटन कार्य के सत्यापन के दौरान यह भी देखा जाय कि जिस उद्देश्य के लिए भूमि का आवंटन किया गया है लाभार्थी आवंटित भूमि का सदुपयोग कर रहे हैं अथवा नहीं। सार्वजनिक भूमि से अवैध कब्ज़ा हटवाये जाने के कार्य की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि सरकारी भूमि की सुरक्षा हम सभी का कर्तव्य है। अवैध कब्ज़ों के सम्बन्ध में प्राप्त होने वाली शिकायतों पर त्वरित एवं प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। चकबन्दी कार्य की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी को निर्देश दिया कि जनपद में डीडीसी की तैनाती के लिए पत्र भिजवायें तथा कब्ज़ा परिवर्तन की कार्यवाही समय से सुनिश्चित कराएं।

Loading...

सीलिंग कार्य की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी पयागपुर को निर्देश दिया कि सीलिंग अनुभाग का निरीक्षण कर आख्या उपलब्ध कराएं। राजस्व वादों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी पीठासीन अधिकारियों को निर्देश दिया कि निर्धारित समय के अनुसार कोर्ट में बैठकर वादों की सुनवाई कर पूरी पारदर्शिता के साथ वादों का निस्तारण करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि सभी उप जिलाधिकारी नियमित रूप से तहसील के कार्यो की समीक्षा करते रहें और स्टाफ की गतिविधियों पर भी सतर्क दृष्टि बनाये रखें। विभागीय कार्यवाही से सम्बन्धित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि गुण दोष के आधार पर समयबद्ध ढंग से मामलों का निस्तारण कराया जाय। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि विभिन्न विभागों में नियुक्ति पाये अभ्यर्थियों के चरित्र एवं पूर्ववृत्त सत्यापन सम्बन्धी मामलों का निष्पादन भी समय से करायें।

कर एवं करेत्तर राजस्व वसूली की मदवार समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने वाणिज्य कर, स्टाम्प तथा निबन्धन, राज्य आबकारी शुल्क, बैंक देय, विद्युत, मनोरंजन, परिवहन, वानिकी एवं वन्य जीव, अलौह खान, मण्डी समिति, स्थानीय निकाय इत्यादि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वित्तीय वर्ष के अवशेष समय में ज्यादा से ज्यादा वसूली कर विभागीय लक्ष्यों की पूर्ति सुनिश्चित करायें।

इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी तेज प्रकाश सिंह, ज्वाईन्ट मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह तवंर, उप जिलाधिकारी महसी गौरांग राठी आईएएस, सदर के नागेन्द्र कुमार, नानपारा के एसपी शुक्ला, कैसरगंज के अमिताभ यादव, पयागपुर के गुलाम सरवर, मिंहीपुरवा (मोतीपुर) के कुंवर वीरेन्द्र कुमार मौर्य, डिप्टी कलेक्टर ज्योति सिंह, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट पंकज कुमार, लीड बैंक प्रबन्धक श्रवण कुमार, कर-करेत्तर से सम्बन्धित विभागीय अधिकारी, तहसीलदार व पटल सहायकगण मौजूद रहे।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

घर-घर जाकर रोटी मांगने वाली इस मुस्लिम महिला के साथ एक हिंदू शख्स ने किया ऐसा हैरतंगेज काम

मथुरा के ऐसे गांव जहां आवागमन के साधन भी नहीं हैं, वहां दो वर्षों से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *