Breaking News

चरित्र पर उंगली उठाई,तो जिंदा जलाया

 लखनऊ- राजधानी के जानकीपुरम थानाक्षेत्र में किराए के मकान में रहने वाली एक महिला को अपनी मकान मालकिन के चरित्र का विरोध करना भारी पड़ गया। विरोध पर माकन मालकिन के बेटे और देवर ने महिला को जिंदा जलाने का प्रयास किया। फ़िलहाल महिला का ईलाज सिविल अस्पताल में जारी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से महमूदाबाद निवासी विनय कुमार अपनी पत्नी मंजू और दो बच्चों के साथ जानकीपुरम के 6/218 में उर्मिला के मकान में किराए पर रहता है। उर्मिला के पति ठेकेदार है। बकौल पीड़ित माकन मालकिन का चाल चलन ठीक नही है और पति के काम पर जाने के बाद वह अपने देवर गुड्डू से संबंधों में रहती है। पीड़िता का कहना है कि माकन मालकिन की नजर उसके पति पर भी थी। गुरुवार रात को पीड़िता का पति विनय मकान मालकिन के कमरे में रात 11 बजे तक बैठा हुआ था जिसके बाद पीड़िता ने उसे बुलाया लेकिन उसने सुना नही। इसके बाद पीड़िता मकान मालकिन के कमरे में गयी और कहासुनी हो गयी साथ ही नौबत गाली गलौच पर आ गई। बताया जा रहा ही की शुक्रवार सुबह मकान मालकिन के इशारे पर उसके बेटे मोहित और देवर गुड्डू ने पीड़िता पर पेट्रोल उड़ेल कर आग लगा दी। शोर शराबा सुनकर स्थानीय लोग इकठ्ठा हो गए और उसे सिविल पहुँचाया जहाँ उसका ईलाज जारी है। डॉक्टर्स के मुताबिक महिला कमर के नीचे के हिस्से से झुलस गयी है। पीड़िता के बेटे ने बताया कि उसके पापा खड़े रहे और मकान मालकिन के बेटे ने आग लगा दी। वही मकान मालकिन ने कुछ और ही बताया है। मकान मालकिन का कहना है कि पीड़िता और उसके पति में अक्सर विवाद होता था जिसके चलते उसने मकान खाली करने को कहा था। शुक्रवार को वह छत पर थी और शोर शराबा सुनकर नीचे आई। पीड़ित पक्ष ने शुक्रवार शाम जानकीपुरम में तहरीर दी है। इंस्पेक्टर जानकीपुरम सतीश सिन्हा का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

About Samar Saleel

Check Also

मतदाताओं का बड़े दलों पर भरोसा कायम, इस बार साफ नहीं मिजाज, अब तक ये रहा है इतिहास

सीतापुर: संसदीय सीट सीतापुर के मतदाताओं ने आजादी के बाद से अब तक बड़े दलों ...