मुख्यमंत्री ने महिला जनप्रतिनिधियों से किया सीधा संवाद

औरैया। मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत आज दूसरे दिन महिला सुरक्षा महिला सम्मान महिला स्वावलंबन को लेकर विभिन्न विभागों द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर महिलाओं को जागरूक किया गया। महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन हेतु चलाये जा रहे मिशन शक्ति अभियान के प्रथम चरण के दूसरे दिन रविवार को ग्राम प्रधानों, शहरी व स्थानीय निकायों, किसान मजदूरों के लिए लैंगिक संवेदीकरण महिला एवं बाल सुरक्षा हेतु संवेदनशीलता लाने हेतु लैंगिक हिंसा की रोकथाम करना शामिल है।

इस थीम के आधार पर आज कृषि विभाग के अंतर्गत माननीय कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी द्वारा महिला कृषकों से चर्चा की गई। इसके अंतर्गत प्रत्येक ब्लॉक में 20 महिलाओं द्वारा प्रतिभाग किया गया जबकि पूरे जनपद में मोबाइल जूम के माध्यम से 4500 से अधिक महिला कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया वही दूसरी ओर माननीय मुख्यमंत्री द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से महिला ग्राम प्रधानों, कालेज स्कूलों की प्रधानाचार्य, महिला प्रधानाध्यापकों, नगर निकाय की महिला सभासदों से महिला सशक्तिकरण जागरूकता और मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत चर्चा की गई।

जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना, भ्रूण हत्या समाप्त करने, स्वच्छ भारत मिशन, उज्जवला योजना, महिला हेल्प डेस्क आदि के संबंध में महिला जनप्रतिनिधियों से जागरूकता बढ़ाने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय नारी गौरव का प्रतीक है। इससे महिलाओं की सुरक्षा में बढ़ोतरी हुई है अब उन्हें खुले में शौच नहीं जाना पड़ रहा है। इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान उज्जवला योजना के तहत फ्री सिलेंडर देकर महिलाओं को स्वावलंबी बनाया गया।

Loading...

उन्होंने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम लगाया जाए जिससे कि भजन राष्ट्रभक्ति आदि के गीत बजाये जाये एवं समय-समय पर महत्वपूर्ण घोषणाएं आदि की जाए। ग्राम स्तर पर सरकार द्वारा चलाए जा रहे सभी इमरजेंसी नंबर जैसे 112, 1090,181, 108, 1076, आदि का प्रचार-प्रसार कराया जाए। जिससे कि लोग इमरजेंसी नंबरों के माध्यम से तत्काल सेवा प्राप्त कर सकें। साथ ही उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में प्रत्येक सप्ताह बैठक कर बालको एवं युवाओं को समझाया जाए कि वह किसी भी प्रकार के अपराध में सम्मिलित ना हो। किशोरियों एवं महिलाओं को बताया जाए कि यदि उनके खिलाफ कोई उत्पीड़न होता है तो तत्काल 1090 पर कॉल कर सूचना दी जाए पुलिस द्वारा तत्काल मदद पहुंचाई जाएगी।

उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वह महिलाओं से जुड़े अपराधियों को गंभीरता से लें एवं महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान से कोई भी समझौता ना करें। महिलाओं को पूर्ण सुरक्षा दी जाए। महिला अपराधों पर रोक लगाई जाए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिलाधिकारी महोदय, मुख्य विकास अधिकारी महोदय एवं जिले की महिला ग्राम प्रधानों प्रधानाचार्य तथा स्थानीय निकाय की महिला जनप्रतिनिधि द्वारा प्रतिभाग किया गया।। श्रम विभाग द्वारा पंजीकृत महिला श्रमिकों के साथ बैठक कर उन्हें श्रम विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में अवगत कराया एवं अन्य महिला श्रमिकों को भी इससे जुड़ने हेतु जागरूक किया। इसके अलावा जनपद के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर एलईडी वैन के माध्यम से ऑडियो वीडियो मूवी दिखा कर महिलाओं बालिकाओं को उनके अधिकारों सशक्त स्वावलंबी बनाए जाने हेतु जागरूक किया गया।

रिपोर्ट-अनुपमा सेंगर

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

विधायक के चित्र में कालिख पोतने से उंचाहार में गरमाई राजनीति

ऊँचाहार/रायबरेली। । क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर लगी क्षेत्रीय विधायक व सपा पदाधिकारियों की होर्डिंग को ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *