Breaking News

सीएम हेल्पलाइन बना मजाक, जांच के नाम पर खानापूरी

वाह, यहां तो पंचायत सेक्रेटरी सफाईकर्मी बना रहे कथित जांच अधिकारी
रायबरेली। प्रदेश भर में जहां सीएम योगी आदित्यनाथ जनसमस्याओं के प्रति सीधे निस्तारण के लिए सीएम हेल्पलाइन व जनसुनवाई जैसी गम्भीर योजनाएं चला रहे हैं लेकिन उनके निस्तारण के लिए जिले के अधिकारी संवेदनहीन होकर निस्तारण कर रहे हैं, अधिकारी अपने केबिन से न निकलकर अपने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से जांच करवाकर आख्या मंगवा रहे हैं, ऐसे में शिकायत निस्तारण के स्तर का अंदाजा आप स्वयं ही लगजे सकते हैं।
जानकारी के मुताबिक ताजा मामला दीनशाह गौरा के थुलरई का है जहां विगत सप्ताह हुई तीव्र बारिश की वजह से कुछ लोगों के आशियाने जमीदोज हो गए थे, गांव के कुछ ग्रामीणों ने इसकी शिकायत 1076 के माध्यम से सीएम हेल्पलाइन पर की थी, जिसकी जांच खण्ड विकास अधिकारी के माध्यम से पंचायत सेक्रेटरी अरुण कुमार सिंह को मिली थी, सेक्रेटरी साहब ने प्रकरण में कोई रुचि नही दिखाई, गांव की शिकायतों का पुलिंदा सफाई कर्मियों को सौंप दिया, इस बाबत जब पंचायत सेक्रेटरी अरुण सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि गांव में शिकायतो की जांच मिली थी, सफाई कर्मियों से आख्या मांगी गई है, जरूरत पड़ने पर गांव का दौरा किया जाएगा।
बड़ा सवाल यह है कि जब सीएम हेल्पलाइन पर की गई शिकायतों के निस्तारण के प्रति अधिकारी संजीदा नही हैं तो आम शिकायतो पर कौन ध्यान दे पाएगा। इस बाबत जब नवागंतुक खण्ड विकास अधिकारी ऋचा सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि प्रकरण संज्ञान में नही था, अब जानकारी हुई है, मामले की जांच करवाकर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।
रिपोर्ट-दुर्गेश मिश्रा

About Samar Saleel

Check Also

मेडिकल स्टोर कर्मचारी के हत्याकांड में लापरवाही बरतना इंस्पेक्टर को पड़ा भारी, हुआ ये…

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कानपुर के दर्शनपुरवा में हुए मेडिकल स्टोर कर्मचारी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *