Breaking News

गार्गी कॉलेज मामले में पकड़े गए 10 आरोपियों को कोर्ट ने दी जमानत

गार्गी कॉलेज छेछाड़ मामले में आज साकेत कोर्ट ने पकड़े गए 10 आरोपियों को जमानत दे दी हैं। कोर्ट ने हर एक आरोपी पर 10,000 के मुचलके पर जमानत दी है। वहीं इस मामले में दिल्ली पुलिस की टीम ने दो और लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक इनमें से एक आरोपी 22 साल का है, वहीं दूसरा आरोपी 19 साल का है, यह दोनों आरोपी एक निजी कंपनी में टेली कॉलर का काम करते हैं।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज में 6 फरवरी की देर शाम बड़ी संख्या में हुड़दंगी घुस आए और छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की। कॉलेज की एक छात्रा ने सोशल मीडिया पर आपबीती बयां की है। छात्रा के अनुसार, फेस्ट के अंतिम दिन कुछ हुड़दंगी कॉलेज परिसर में दीवार फांद कर अंदर आ गए। इसमें कुछ अधेड़ भी थे। छात्रा के मुताबिक, कॉलेज के वार्षिक समारोह के अंतिम दिन 6 फरवरी को गायक जुबीन नॉटियाल की प्रस्तुति थी। इसके लिए कॉलेज की छात्राओं के द्वारा सीमित लोगों को पास बांटे थे और इसी के माध्यम से प्रवेश मिलना था।

Loading...

छात्रा का आरोप है कि कार्यक्रम के लिए बड़ी संख्या में युवा व अधेड़ कॉलेज में आ गए। इनमें से अधिकतर लोग शराब के नशे में थे और इन्होंने कॉलेज में छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की। इस दौरान उन्हें छात्राएं एसएमएस (SMS) और वॉट्सएप नहीं कर पाईं क्योंकि वहां पर मोबाइल जैमर लगे थे। कॉलेज के सुरक्षाकर्मी छात्राओं को सुरक्षित करने में विफल रहे। हम अपने ही कॉलेज में असुरक्षित महसूस कर रही हैं। हम चाहते हैं कि इसके लिए प्राचार्या और कॉलेज प्रशासन जिम्मेदारी लें।

छात्राओं का आरोप है कि जो लोग कॉलेज के अंदर घुसे वे नजदीक में ही रैली कर रहे थे। गार्गी कॉलेज की एक छात्रा ने एक ट्वीट में लिखा, अधेड़ किस्म के कुछ शराब पिए हुए मर्द हमारे साथ बदतमीजी कर रहे थे। उन्होंने हमारे सामने छेड़छाड़ की और हमारे सामने मस्टरबेट किया। मुझे कुछ लोगों ने भीड़ में 3 बार दबोच लिया…और जब मैं चिल्लाई तो वे हंस रहे थे।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

भारतीय थल सेना को मिलेगा अपना नया हेडक्वार्टर, दिल्ली कैंट में भूमि पूजन करेंगे राजनाथ सिंह

भारत की राजधानी दिल्ली में आज थल सेना भवन का शिलान्यास किया गया. रक्षा मंत्री ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *