Breaking News

बिधूना के बेला में लगा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का शिविर, 12 नवम्बर को लगने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के लिए किया जागरूक

बिधूना। विकास खंड बिधूना की ग्राम पंचायत बेला के प्राथमिक विद्यालय में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें शासन की जनहितकारी योजनाओं के साथ प्री लिटिगेशन व ओर्बिट्रेशन के बारे में बताने के साथ छोटे मोटे वाद विवादों को आपस में मिल बैठ कर निपटाने पर बल देने के साथ सुलह-समझौता केन्द्र के लाभ बताये गये। साथ ही 12 नवम्बर को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के बारे में जागरूक किया गया।

शिविर में लोक अदालत के मामलों की प्रकृति के बारे में जानकारी देने के साथ राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से वादों के निस्तारण आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस अवसर पर नेशनल लीगल सर्विस अथार्टी (नालसा) की योजनाओं के बारे में जानकारी देने के साथ लिंग भेद न किये जाने, घरेलू हिंसा, दहेज, बालश्रम, नशाखोरी आदि सामाजिक बुराइयों से दूर रहने पर जोर दिया गया। शिविर में कोविड 19 से बचाव के लिये वैक्सीनेशन कराये जाने को कहा गया।

शिविर में वरिष्ठ पैरा लीगल वालंटियर राघवेन्द्र प्रताप सिंह गौर ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा गरीब असहाय लोगों को निःशुल्क दी जाने वाली कानूनी सहायता एवं अन्य कानूनी प्रावधानों के बारे में बताया। उन्होंने नालसा स्कीम की विस्तार से जानकारी देने के साथ थर्ड जेंडर, ट्रांस जेंडर व दिव्यांगों आदि के अधिकारों के प्रति जागरूक किया। उन्होंने कोविड 19 से बचाव के लिये वैक्सीनेशन कराने के साथ सुरक्षा के उपाय किते जाने को कहा। उन्होंने बेटा बेटियों में भेदभाव न किये जाने के साथ बच्चों को शिक्षित संस्कारित बनाये जाने पर बल दिया। उन्होंने लोक अदालत के मामलों की प्रकति के बारे में अवगत कराते हुऐ 12 नवम्बर को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से मामलों को निस्तारित कराये जाने को कहा। उन्होंने साफ सफाई रखने के साथ अस्वस्थ होने पर प्रशिक्षित चिकित्सक से उपचार कराये जाने को कहा।

इस अवसर पर क्षेत्रीय लेखपाल राजबहादुर शाक्य ने राजस्व विभाग से संबंधित राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना, किसान दुर्घटना बीमा योजना, घरौनी, वरासत, पेंशन व आयुष्मान योजनाओं आदि के बारे में जानकारी दी। साथ ही ग्रामीणों को धान खरीद के लिए पंजीकरण कराने के साथ पराली न जलाने को आगाह किया। उन्होंने दुर्घटना या दैवी आपदा की घटनाओं में फौत हुए लोगों का पोस्टमार्टम अनिवार्य रुप से कराये जाने के साथ डेढ़ माह के भीतर दावा प्रस्तुत करने को कहा। कहा बिना पीएम के शासन से किसी भी प्रकार की आर्थिक सहायता नहीं मिल सकती है।

ग्राम्य विकास अधिकारी राघवेन्द्र सिंह चौहान ने आवास, पेंशन, राशनकार्ड आदि योजनाओं के लिये ऑन लाइन पंजीकरण कराने के साथ विकास कार्यों में सहयोग की अपेक्षा की। इस अवसर पर पैरा लीगल वालिंटियर वेद प्रकाश वर्मा ने भी कानूनी सहायता आदि के बारे में जानकारी दी।

इस मौके पर रुखसार बेगम, सूफिया बानो, निशा व चांदनी आदि ने सरकारी आवास योजना के साथ पेंशन योजना का लाभ दिलाए जाने की मांग की। ग्राम प्रधान राकेश कुमार सिंह चौहान ने कहा के प्रत्येक पात्र महिला पुरुष को शासन की सभी योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा। उन्होंने सभी पात्र लोगों से विधवा व वृद्धावस्था पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जाने को कहा। उन्होंने ग्रामीणों से ग्राम पंचायत के विकास कार्यों में सहयोग की अपेक्षा की।

इस अवसर पर महेश चंद्र, अरविंद कुमार, मुख्तयार, मूलचंद, अवधेश शुक्ला, मोमिना बेगम, रुखसार बेगम, मुनव्वर, निशा, चांदनी, पप्पी, रानी देवी, श्यामवीर, आशा देवी, ममता देवी, रजनी देवी, खुशनाम, साफिया बेगम, यासीन, सीमा देवी, रमाकांत व रमेश आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन/राहुल तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

विधिक सहायता केंद्र व जिला विधिक प्राधिकरण के संयुक्त तत्वाधान में कार्यक्रम आयोजित, अनुच्छेद 14 से 32 के मौलिक अधिकारों की दी जानकारी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ विश्वविद्यालय, विधि संकाय की प्रतिष्ठित संस्था विधिक ...