Breaking News

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से सदमे में चल रहीं उनकी भाभी ने भी तोड़ा दम

इस वक्त की बड़ी खबर बिहार के पूर्णिया से आ रही है जहां अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की भाभी का निधन हो गया है. दो दिन पहले मुंबई में आत्महत्या करने वाले इस अभिनेता की चचेरी भाभी सुधा देवी पहले से बीमार चल रही थी लेकिन सुशांत सिंह की आत्महत्या के बाद वो गहरे सदमे में चली गई थी और उनकी मौत हो गई.

सुशांत के निधन के बाद से सदमें में चली गईं उनकी भाभी सुधा ने सोमवार की देर रात थी पूर्णिया के मलडीहा गांव जो कि सुशांत का पैतृक गांव भी है स्थित ससुराल में दम तोड़ दिया. इसकी पुष्टि उनके परिवार के लोगों ने भी की है. परिजनों का कहना है की सुधा देवी करीब 5 साल से लीवर कैंसर से पीड़ित थी और जब सुशांत राजपूत के मौत की सूचना उन्हें मिली तो उन्हें भी इस बात का गहरा सदमा लगा.

पहले से कैंसर पीड़ित होने के कारण इस सदमे को वह बर्दाश्त नहीं कर पाई और सोमवार की शाम में मलडीहा गांव में ही उनका निधन हो गया. मृतक सुधा देवी के भतीजा सानू कुमार और देवर राकेश सिंह ने कहा कि 17 जून को सुधा देवी के बेटा शंकर सिंह का शादी होने वाली था.

सोमवार को इस अभिनेता का अंतिम संस्कार मुंबई के विले पार्ले में किया गया जिसमें उनके पिता केके सिंह, भाई नीरज कुमार बबलू समेत परिवार के गिने चुने लोग ही जा सके थे. सुशांत ने रविवार को मुंबई स्थित फ्लैट में आत्महत्या कर ली थी. इस खबर ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था.

सदमे में हैं लोग- पूर्णिया के लाल मलडीहा निवासी सुशांत सिंह राजपूत की मौत से गांव में गहरा शोक व्याप्त है. रविवार को जैसे ही सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या करने की सूचना उनके पैतृक गांव में पहुंची उसके बाद से गांव में चूल्हा तक नहीं जला है. सुशांत के चचेरे भाई संतोष सिंह ने बताया कि गांव के सभी लोग उनके मौत की सूचना से गमगीन हैं.

About Aditya Jaiswal

Check Also

रामगंगा पुल पर मरम्मत कार्य के कारण एक लेन बंद, बरेली-फर्रुखाबाद हाईवे पर लगा भीषण जाम

शाहजहांपुर:  शाहजहांपुर में बरेली-फर्रुखाबाद हाईवे पर अल्हागंज में रामगंगा पुल की एक लेन मरम्मत के ...