Indian Cricket में ‘स्टार कल्चर’ को लेकर गौतम गंभीर ने खड़े किये सवाल कहा-“धोनी और विराट को ना बनाएं हीरो”

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने इंडियन क्रिकेटर्स को स्टार बनाने के कल्चर पर सवाल खड़े किए हैं।उन्होंने खिलाड़ियों को हीरो बनाए जाने को लेकर जमकर आलोचना की है.

उन्होंने  इंटरव्यू में कहा, ‘1983 के वर्ल्ड कप से ये होता आया है। केवल कपिल देव ने आपको वर्ल्ड कप नहीं दिलाया था, लेकिन आपने उन्हें स्टार बना दिया और उनकी पूजा करने लगे। धोनी और विराट के साथ भी यही हुआ।

गौतम गंभीर से जब पूछा गया कि क्या स्टार खिलाड़ियों की वजह से युवा खिलाड़ियों को अपना नाम बनाने में परेशानी होती है तो गंभीर ने कहा ‘ऐसे माहौल में कोई आगे नहीं बढ़ पाया है. पहले महेंद्र सिंह धोनी थे, अब विराट कोहली हैं.’

गंभीर ने आगे कहा, ‘ड्रेसिंग रूम में स्टार या हीरो पैदा न करें। भारतीय क्रिकेट ही असली हीरो होना चाहिए, कोई व्यक्ति नहीं। हमें किसी एक खिलाड़ी को बड़ा बनाने के बजाय पूरी टीम को बड़ा बनाने पर जोर और ध्यान लगाना चाहिए। फैंस और खासकर मैच दिखाने वाले ब्रॉडकास्टर्स को ये सोचना चाहिए।

गंभीर ने अपनी बातचीत को आगे बढ़ाते हुए कहा कि भारतीय क्रिकेट ही असली हीरो होना चाहिए कोई व्यक्ति भारतीय क्रिकेट से बड़ा नहीं होना चाहिए। लेकिन साल 1983 से ऐसी परंपरा चली आ रही है जहां हम किसी व्यक्ति विशेष को महान करने की कोशिश में जुट जाते हैं।

About News Room lko

Check Also

36 साल की उम्र में कार्डियक अरेस्ट की वजह से पाकिस्तान के क्रिकेटर शहजाद आजम राणा का हुआ निधन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें पाकिस्तान के लिए एक बड़ी ही दुखद खबर ...