Breaking News

सरकार का बड़ा फैसला! पीएफ पर मिलता रहेगा पहले जितना ब्याज, नहीं होगा कोई नुकसान

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने 6 करोड़ से ज्यादा नौकरी करने वालों को बड़ी राहत दी है. EPFO ने पीएफ पर ब्याज दर की घोषणा कर दी है. EPFO की सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) पर ब्याज दर बरकरार रखा है. पीएफ पर 8.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. आज श्रीनगर में हुई सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की बैठक में ईपीएफ की ब्याज दरों पर फैसला हुआ. 5 फरवरी, 1953 को हुई सीबीटी की पहली बैठक के बाद से, श्रीनगर में कभी भी मीटिंग नहीं हुई थी. सीबीटी की बैठकें ज्यादातर दिल्ली, शिमला, पटना, चेन्नई और मुंबई में हुई हैं. श्रम मंत्री के नेतृत्व में, सीबीटी में लगभग 40 सदस्य हैं.

सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 8.5 फीसदी ब्याज देना का फैसला किया था, जो सात सालों में सबसे कम था. वहीं वित्त वर्ष 2018-19 में ये दर 8.65 फीसदी थी. बोर्ड ने पहले कहा था कि वह 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में दो किस्तों में 8.5 फीसदी ब्याज का भुगतान करेगा. 8.15 फीसदी डेट इन्वेस्टमेंट से और 0.35 फीसदी ब्याज का भुगतान इक्विट से किया जाएगा.

नए सदस्यों की संख्या बढ़ी

EPFO द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक उसके पास नए रजिस्ट्रेशन की संख्या दिसंबर में 24 फीसदी बढ़कर 12.54 लाख हो गई. यह बढ़ोतरी नवंबर 2020 के मुकाबले 44 फीसदी अधिक है. इन आंकड़ों से कोविड-19 महामारी (COVID-19) के बीच औपचारिक क्षेत्र में रोजगार की स्थिति का पता चलता है. श्रम मंत्रालय (Labour Ministry) ने एक बयान में कहा कि ईपीएफओ के वेतन आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर 2020 में शुद्ध आधार पर 12.54 लाख खाताधारक बढ़े, जो एक सकारात्मक संकेत है.

दो किस्तों में मिलेगा ब्याज

वह 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में दो किस्तों में 8.5 फीसदी ब्याज का भुगतान करेगा. 8.15 फीसदी डेट इन्वेस्टमेंट से और 0.35 फीसदी ब्याज का भुगतान इक्विट से किया जाएगा. इससे पहले रिटायरमेंट बॉडी ने कहा था कि वह 8.15 फीसदी डेट इनकम से और बाकी रकम 0.35 फीसदी 31 दिसंबर 2020 तक ईटीएफ (एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड) की बिक्री से मिली रकम से दी जाएगी.

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

यूपी में 20 मई तक के लिये स्थगित हुई हाईस्कूल व इंटर की परीक्षायें, यूनिवर्सिटी के एग्जाम भी टले

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने यूपी बोर्ड ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *