Breaking News

Purse : कहीं आप पीछे की जेब में तो नहीं रखते

पुरुषों और महिलाओं में Purse पर्स रखने का अलग-अलग स्टाइल होता है। आम तौर पर महिलाएं अपना पर्स हाथ में लेकर चलना पसंद करती हैं, जबकि पुरुष अपना पर्स जेब में लेकर चलते हैं। लेकिन अगर आप पर्स रखने के लिए पीछे की जेब का प्रयोग करते हैं ,तो सावधान हो जाइये।

पीछे की जेब में Purse रख खुद को बीमार तो नहीं कर रहे आप

पीछे के जेब में Purse पर्स रखने से आप कई तरह के बिमारियों को अपने तरफ बुला रहे। पीछे की पॉकेट में पर्स रखकर लंबे समय तक बैठने से नसों पर प्रेशर पड़ता है।

Loading...
  • इससे हिप्स और कमर में दर्द होता है।
  • साइटिका नस पर जोर पड़ने से दर्द होने लगता है।
  • बैक पॉकेट में पर्स रखने युवाओं में पायरी फोर्मिस सिंड्रोम नाम की बीमारी भी हो सकती है।
  • अधिक देर तक बैठने से पायरी फोर्मिस मसल्स दब जाती और पैरों में तेज दर्द होने लगता है।
  • नसें दबने से ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक नहीं रहता है। ब्लड सर्कुलेशन रूकने से नसों में सूजन भी आ सकती है।
  • पीछे की पॉकेट में वॉलेट रखने से बैठने की स्थिति भी बैलेंस में नहीं रहती। इससे स्पाइनल जॉइंट्स, मसल्स और डिस्क आदि में दर्द होता है।
Loading...

About Samar Saleel

Check Also

क्या आप जानते है पुरुषो में भी होता है मेनोपॉज, पढ़े यहाँ

क्या आप जानते हैं कि जिस तरह स्त्रियों में रजोनिवृत्ति यानी मेनोपॉज (Menopause) की स्थिति ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *