Breaking News

लखनऊ फिल्म फोरम का ‘तिलिस्म’ 4 व 5 नवम्बर को

लखनऊ। एमरन फाउंडेशन के तहत काम कर रहे लखनऊ फिल्म फोरम 4 और 5 नवंबर को तिलिस्म फिल्म फेस्टिवल का आयोजन कर रहा है। इस फेस्टिवल में नामचीन हस्तियां और सराही गई उत्कृष्ट फिल्मों का प्रदर्शन शामिल है। फिल्म समारोह कराने वाला एमरन फाउंडेशन समाज के कमजोर वर्गों के छात्रों और कलाकारों को जागरूक करने और भारतीय फिल्म उद्योग में उत्तर प्रदेश के उद्यमियों और कामगारों को औपचारिक शिक्षा प्रदान करने और उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए काम करता है।

इस तिलिस्म फिल्म समारोह के अवसर पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री मीनाक्षी लेखी, सांसद डा.रीता बहुगुणा जोशी, प्रदेश के पर्यटन और संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह, इंडिया ऑपरेशंस के प्रबंध निदेशक अंबिका शर्मा, मीडिया और मनोरंजन समिति के प्रमुख जमशेद मिस्त्री जैसे कई गणमान्य व्यक्ति शिरकत करेंगे। समारोह में सार्थक फिल्मों की स्क्रीनिंग भी होगी। यहां फिल्मों की बारीकियों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी।

फाउंडेशन की अध्यक्ष रेणुका टंडन ने बताया कि हमारा पहला मकसद ऐसे वक्तव्यों और चर्चाओं को शामिल करना है जो छात्रों और हमारे भीतर फिल्म निर्माण में रोजगार की संभावनाओं के बीच की खाई को पाटने में मदद करें। लखनऊ और उत्तर प्रदेश में अपार संभावनाएं हैं। यह कार्यक्रम भारत और विदेशों में हिंदी भाषा बोलने वाले लोगों की मनोरंजन की भूख को पूरा करता है और उत्तर प्रदेश को एक अनुकूल फिल्म निर्माण गंतव्य के रूप में स्थापित करता है। इससे राज्य आर्थिक विकास के मामले में एक महत्वपूर्ण बढ़त हासिल करेगा।

दो दिवसीय कार्यक्रम में फिल्म निर्माण के कई क्षेत्रों पर ज्ञानवर्धक चर्चा, विशेषज्ञों द्वारा मास्टर क्लास, विभिन्न अभिनेताओं द्वारा आकर्षक बातचीत आदि शामिल हैं। यह दो दिन निश्चित रूप से सितारों से भरे होगे क्योंकि कई प्रमुख चेहरे और गणमान्य व्यक्ति हमें फिल्म निर्माण के विभिन्न पहलुओं पर अपने विचारों से रूबरू करने के लिए इस फोरम में उपस्थित होंगे।

फिल्म बिरादरी के वक्ताओं में पटकथाकार अनन्या शर्मा, अभिनेता फैसल मलिक, अमित सियाल, सुधांशु पांडे, अभिनेत्री सीमा पाहवा, निवेशक चांदनी जाफरी, फिल्म निर्देशक ज्योति कपूर दास व किरीट खुराना हैं। इनके साथ ही फिल्म निर्माता निर्देशक लेखक अमृत सागर, सीजी-वीएफएक्स के प्रमुख नीलेश गोर, शिजी सुनील भी शामिल होंगे। कार्यक्रम के आयोजक एमरन फाउंडेशनने इससे पहले लखनऊ फिल्म फोरम रील टॉक (2019), ई-संगोष्ठी(2020), मोनोलॉग सत्र जश्न-ए-कहानी (2020) और सीमा पाहवा द्वारा संचालित मास्टर क्लास (2021) जैसे कई महत्वपूर्ण आयोजन कर चुका है। 2 नवंबर को रामप्रसाद सुंदर द्वारा भातखडे संगीत विश्वविद्यालय में भी रन अप टू इवेंट नेटफ्लिक्स म्यूजिक मास्टर क्लास होना निर्धारित है।

मीडिया और मनोरंजन उद्योग के रेज़र-शार्प अत्याधुनिक वीएफएक्स तकनीक के क्षेत्र में इतने सारे करियर चुनने के लिए- एनीमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग कार्टून, मेटावर्स, एआरवीआर और इमर्सिव टेक्नोलॉजी जैसे बहुआयामी कार्यक्षेत्र हैं। उत्तर प्रदेश के शहरों ने हाल के दिनों में फिल्म निर्माताओं से बड़े पैमाने पर ध्यान आकर्षित किया है। दर्शकों द्वारा पसंद किए जाने वाले मनोरंजन के प्रकार में एक अलग बदलाव आया है। इसने उत्तर प्रदेश राज्य को लाभान्वित किया है क्योंकि यहां राज्य के भीतर एक प्रतिभा पूल बनाने का एक शानदार अवसर है, जिससे उन छात्रों के करियर को भी प्रोत्साहन मिलता है जो मीडिया और मनोरंजन उद्योग में अपनी पहचान बनाने की इच्छा रखते हैं।

About Samar Saleel

Check Also

विज्ञान, कलाकार की भांति संवेदनशील नहीं हो सकता- पद्मश्री राजेश्वर आचार्य

• लखनऊ के भूपेंद्र अस्थाना और संजय राज सहित अन्य 22 कलाकारों को शिविर में ...