Breaking News

कई गंभीर बीमारियों को न्योता देता है अधिक मात्रा में नमक का सेवन

बदलती लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से नमक शरीर के लिए और बड़ा खतरा बन गया है। अक्सर हमारे घर के खाने में अगर कभी-कभी नमक की मात्रा कम हो जाती है तो वह खाना बेस्वाद लगने लगता है।

इसकी पूर्ति करने के लिए कुछ लोग अतिरिक्त नमक ले लेते हैं, तो कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो प्रतिदिन खाने के अलावा सलाद और अन्य माध्यमों से भी नमक की मात्रा का सेवन करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं की अधिक मात्रा में नमक का सेवन कई प्रकार की ऐसी गंभीर बीमारियों को न्योता देता है। आइये जानते हैं…

​हृदय रोग: नमक का ज्यादा सेवन दिल की बीमारियों के खतरे को बढ़ा देता है. इसलिए दिल को सेहतमंद रखने के लिए खाने में नमक की मात्रा का संतुलन बनाए रखें। नमक का अधिक सेवन करने के कारण हृदय की मांसपेशियों में ज्यादा खिंचाव होता है। इसके कारण यह कोशिकाएं स्वत: बढ़ने लगती हैं और हृदय की कार्यप्रणाली में बाधा पहुंचती है। इसके बाद हृदय के कई सारे फंक्शन ठीक तरीके से कार्य करने में सक्षम नहीं रहते हैं। इसका घातक परिणाम कई प्रकार के हृदय रोगों का खतरा कई गुना तक बढ़ा देता है।

किडनी में स्टोन का खतरा: किडनी स्टोन कई प्रकार की मेडिकल कंडीशन के बाद उत्पन्न होती है। यूरिन के जरिए अगर हमारे तो यह क्रिस्टल के रूप में हमारी किडनी में इकट्ठा होने लगता है। अधिक मात्रा में नमक खाने से आपके पेशाब में कैल्शियम का लेवल बढ़ने लगता है जिससे आपके किडनी में स्टोन होने की संभावना अधिक बढ़ जाती है। इसलिए यदि आपको किडनी में स्टोन होने की संभावना महसूस हो रही हैं तो इसका मतलब हो सकता है कि आप बहुत अधिक मात्रा में नमक का सेवन कर रहे हैं।

Loading...

हाई ब्लड प्रेशर: विशेषज्ञों की मानें तो ज्‍यादा नमक हाई बीपी का कारण बनता है इसलिए अपने खाने में नमक कम डालें। सबसे पहले जिस मेडिकल कंडीशन की चपेट में आप आ सकते हैं, वह हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है। इसे हाइपरटेंशन के नाम से भी जाना जाता है और हर साल इसकी वजह से भारत में हजारों लोगों की मौत होती है। नमक का अधिक सेवन करने के कारण सीधे रूप से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है इसलिए ज्यादा मात्रा में नमक ना खाएं और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से बचे रहें।

स्ट्रोक: कई लोग स्ट्रोक का शिकार बड़ी आसानी से हो जाते हैं। यह हमारे सिर में सबसे ज्यादा घातक साबित होता है और एक बिजली के झटके की तरह हमें महसूस होता है। वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार नमक का अधिक मात्रा में किया गया सेवन स्ट्रोक का प्रमुख कारण माना जाता है। जिन लोगों को माइग्रेन की समस्या है उन्हें को खासतौर पर नमक का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे स्ट्रोक का खतरा और भी बढ़ सकता है।

सिरदर्द: सिरदर्द की समस्या तो आज के समय में एक आम बन चुकी है, जिसका अधिकतर घरेलू तरीके से ही उपचार किया जा सकता है। यहां आपको बता दें कि ज्यादा मात्रा में किया गया नमक का सेवन भी सिरदर्द का प्रमुख कारण माना जाता है। इसमें जरा सी लापरवाही के कारण यह माइग्रेन का रूप भी ले सकता है, जो कि सिर दर्द की एक भयानक स्थिति है। इसलिए जिन लोगों में सिर दर्द की समस्या है, उन्हें नमक का सीमित मात्रा में ही सेवन करना चाहिए।

दिन में केवल इतनी मात्रा का करें सेवन: नमक का अधिक सेवन करने के कारण होने वाले स्वास्थ्य जोखिमों से बचे रहने के लिए आपको एक दिन में केवल और केवल 5 ग्राम नमक की मात्रा का सेवन करना चाहिए। दरअसल, अधिक मात्रा में किया गया नमक का सेवन आपको ऊपर बताई कई बीमारियों का शिकार बड़ी आसानी से बना देगा। डॉक्टरों की मानें तो उनका भी यही कहना है कि एक दिन में 5 ग्राम से अधिक मात्रा का सेवन करने से बचना चाहिए।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

सर्दियों में चाहिए गुलाबी निखार तो फेस पैक में मिलाएं चुकंदर, साथ ही मिलते हैं कई फायदे

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें स्वस्थ और फिट रहने के लिए डाइट में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *