मोदी का यूएई राष्ट्रपति शेख ने गर्मजोशी से किया स्वागत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन वापस लौटते हुए मंगलवार को थोड़े समय के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) रूके। इस दौरान उन्होंने यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मुलाकात की। वह पूर्व राष्ट्रपति और अबू धाबी शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे थे। 2004 से सत्ता पर काबिज नाहयान का 73 साल की उम्र में लंबी बीमारी के बाद 13 मई को निधन हो गया था।

पूर्व राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निधन पर शोक व्यक्त करने अबू धाबी पहुंचे थे प्रधानमंत्री मोदी।

विदेश मंत्रालय के अनुसार प्रधानमंत्री ने शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ-साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शेख तहन्नौ बिन जायद अल नाहयान, उप प्रधानमंत्री शेख मंसूर बिन जायद अल नाहयान, अबू धाबी निवेश प्राधिकरण के एमडी शेख हमीद बिन जायद अल नाहयान, विदेश मामलों और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान सहित अन्य परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

नाहयान से वार्ता के दौरान दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-यूएई के बीच व्यापक रणनीतिक साझेदारी के विभिन्न पहलुओं की समीक्षा की।

मंत्रालय के अनुसार नाहयान से वार्ता के दौरान दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-यूएई के बीच व्यापक रणनीतिक साझेदारी के विभिन्न पहलुओं की समीक्षा की। इसके साथ ही दोनों नेताओं ने भारत-यूएई व्यापक रणनीतिक साझेदारी को और प्रगाढ़ करने और विविधता लाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।

प्रधानमंत्री मोदी ने अल नाहयान को संयुक्त अरब अमीरात के तीसरे राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने और अबू धाबी के शासक बनने पर बधाई दी। प्रधानमंत्री ने संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान को विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के दौरान संयुक्त अरब अमीरात में 35 लाख भारतीय समुदाय की देखभाल करने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने शेख नाहयान को जल्द से जल्द भारत आने के लिए आमंत्रित किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को जी-7 शिखर सम्मेलन से लौटते हुए यूएई पहुंचे थे। यहां यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने हवाई अड्डे पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। इस पर प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा ‘अबू धाबी हवाई अड्डे पर स्वागत करने के लिए अपने भाई हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के विशेष भाव से अभिभूत हूं। मैं उनके प्रति अपना आभार व्यक्त करता हूं।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक वीडियो मैसेज में इसे ‘स्पेशल गेस्चर’ बताया। उन्होंने कहा कि हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान और शाही परिवार के सदस्य यहां प्रधानमंत्री मोदी से मिलने और बातचीत करने के लिए हवाई अड्डे पर आए ताकि प्रधानमंत्री को उनसे मिलने शहर तक न जाना पड़े।

रिपोर्ट: शाश्वत तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे से…..सगरा कस्बा तिरंगे ते रंगा रहय

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें ककुवा ने प्रपंच का अगाज करते हुए कहा- ...