Breaking News

देश के अगले अटॉर्नी जनरल बनेंगे मुकुल रोहतगी, इस महीने खत्म होगा KK Venugopal का कार्यकाल

वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी का फिर से भारत का अटॉर्नी जनरल बनना तय है.  रोहतगी इससे पहले जून 2014 में भी अटॉर्नी जनरल के रूप में नियुक्त  किए गए थे और जून 2017 तक सेवा दी थी।

वह 1 अक्टूबर से देश के सबसे बड़े कानून अधिकारी रूप में अपना दूसरा कार्यकाल शुरू करने वाले हैं. मौजूदा अटॉर्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल का कार्यकाल 30 सितंबर को समाप्त हो रहा है.

जून 2017 मेंउन्होंने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए अटॉर्नी जनरल के पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद उन्होंने अपनी निजी प्रैक्टिस शुरू कर दी थी. मुकुल रोहतगी केके वेणुगोपाल की जगह लेंगे.

रोहतगी ने अपने पिता अवध बिहारी रोहतगी के नक्शेकदम पर चलते हुए वकालत की पढ़ाई की, जो दिल्ली हाई कोर्ट में जज थे. उन्होंने मुंबई के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से कानून पूरा किया और शुरुआत में योगेश कुमार सभरवाल के साथ काम किया.

उन्होंने लॉ की प्रैक्टिस शुरू की और 1993 में, रोहतगी को दिल्ली हाई कोर्ट में सीनियर वकील के रूप में नामित किया गया. 1999 में वे भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल नियुक्त किए गए.

वेणुगोपाल ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट को संकेत दिया था कि वह 30 सितंबर के बाद पद पर नहीं होंगे। इस साल जून के अंत में, एजी वेणुगोपाल का कार्यकाल तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया था।  सरकार ने 90 वर्षीय वेणुगोपाल का कार्यकाल एक बार फिर से बढ़ाने की पेशकश की थी. लेकिन बढ़ती उम्र और स्वास्थ्य का हवाला देते हुए उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया

About News Room lko

Check Also

हिमाचल प्रदेश के दौरे पर आज पीएम मोदी ने किया बिलासपुर AIIMS का उद्घाटन, 2017 में रखी थी अधारशिला

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बिलासपुर में ...