Breaking News

मुस्तफा दोसा की मौत

1993 मुंबई ब्लास्ट के दोषी मुस्तफा दोसा की बुधवार को दिल का दौरा पड़ने से अस्पताल में मौत हो गई। उसे सीने में दर्द की शिकायत के चलते जे.जे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मुंबई ब्लास्ट मामले में 24 साल बाद विशेष टाडा अदालत ने 16 जून को ही उसे दोषी करार दिया था। सीबीआई ने कोर्ट से उसके लिए फांसी की मांग की थी, लेकिन सजा का ऐलान होने से पहले ही उसकी मौत हो गई। अस्पताल के डीन टीपी लहाने ने बताया कि दोसा को अस्पताल के जेल वॉर्ड में देर रात तीन बजे भर्ती कराया गया। उन्होंने बताया कि दोसा ने आर्थर रोड जेल में सीने में दर्द की शिकायत की थी। उसे शुगर की बीमारी थी और इन्फेक्शन भी था। सीबीआई ने ब्लास्ट में दोसा की भूमिका को याकूब मेनन से अधिक गंभीर करार देते हुए अदालत से उसके लिए सजा-ए-मौत की मांग की थी। बता दें कि याकूब मेनन को फांसी दी जा चुकी है।

About Samar Saleel

Check Also

रक्षा मंत्री के आवास पर आज शाम NDA नेताओं की बैठक, लोकसभा अध्यक्ष पद प्रत्याशी पर होगा मंथन

संसद सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष पद को लेकर संदेह बना हुआ है, अब तक ...