राष्ट्रीय मीडिया महासंघ ने जिला अधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

कौशाम्बी। उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में हुए कांड पर मीडिया कर्मियों के विरुद्ध उत्तर प्रदेश पुलिस एवं स्थानीय प्रशासन द्वारा किए गए दुर्व्यवहार पर बर्खास्तगी साथ ही दंडात्मक कार्रवाई के संबंध में आज राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) ने जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को एक ज्ञापन सौंपा है। बताते चलें कि हाथरस जनपद में बीते दिन एक युवती के साथ हुए जघन्य अपराध के बाद युवती की मौत के बाद हुए बवाल को मीडिया कवरेज करने पहुंचा, जहां पर जिला प्रशासन व पुलिस का रवैया पत्रकारों के साथ भी असंवैधानिक रूप से देखा गया।

हाथरस कांड में मीडिया कर्मियों के विरुद्ध किए गए दुर्व्यवहार के संबंध में एनएमसी प्रदेश अध्यक्ष की अगुवाई में कौशाम्बी जिलाधिकारी द्वारा राज्यपाल को भेजा गया ज्ञापन।

इस दौरान कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों को इस तरह से रोका गया जैसा कि भारत के नियंत्रण व सीमा रेखा पर भी नहीं रोका जाता इतना ही नहीं पुलिस बल भी इन पत्रकारों के साथ प्रयोग किया गया, इस खबर को जमीनी हकीकत के साथ कवरेज करने पहुंचे मुख्य धारा की महिला मीडिया कर्मियों के साथ भी पुलिसकर्मियों के अलावा स्थानीय उप जिला अधिकारी (एसडीएम) द्वारा असंवैधानिक हरकतें की गई जिसकी जितनी निंदा की जाए वह बेहद कम है।

हाथरस में हुए पत्रकारों के साथ अभद्रता से पत्रकारों में दिखा रोष

इस समूचे घटना का प्रसारण स्वतः ही प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, ब्रॉडकास्ट मीडिया, वेब मीडिया सहित सोशल मीडिया पर लगातार देखा जा रहा है। उत्तर प्रदेश पुलिस एवं उप जिला अधिकारी की इस अभद्र हरकत की पूरा राष्ट्र निंदा कर रहा है जिसकी कड़ी में राष्ट्रीय मीडिया महासंघ एनएमसी उत्तर प्रदेश इकाई ने भी कड़ी निंदा करते हुए ज्ञापन सौंपा है।

Loading...

ज्ञापन सौंपने के बाद राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) के प्रदेश अध्यक्ष ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि राष्ट्रीय मीडिया महासंघ हर मुद्दे पर चाहे वो पत्रकार उत्पीड़न हो या आम जनमानस की समस्या ही क्यूँ न हो, लगातार आवाज़ उठाती आयी है। इसी कड़ी में हाथरस प्रकरण को देखते हुए भी राष्ट्रीय मीडिया महासंघ के राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर आज जिला कौशाम्बी से उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया जिसके माध्यम से हाथरस में पत्रकारों के साथ किये गए अमानवीय व्यवहार की कड़ी निंदा करते हुए दोषी स्थानीय प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन पर दंडात्मक कार्यवाही की मांग की गई। साथ ही श्री अहमद ने बताया कि यदि पत्रकारों के सम्मान की अनदेखी की गई तो आगामी दिनों में हमारा संगठन एवं अन्य तमाम संगठन सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन करने को बाध्य होगा। इस दौरान प्रयागराज मण्डल उपाध्यक्ष सुरेश सिंह व जिला कौशाम्बी के जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने भी पत्रकार हित में आंदोलन की बात कही तथा अन्य पदाधिकारियों ने एक सुर में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की भी बात कही।

ज्ञापन देते समय राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) के प्रदेश अध्यक्ष इश्तियाक अहमद, जिला कौशाम्बी के एनएमसी संरक्षक नसीम अहमद, प्रयागराज मंडल उपाध्यक्ष सुरेश सिंह, जिला कौशाम्बी अध्यक्ष दिनेश कुमार, जिला कोषाध्यक्ष कमलेश साहू, जिला मीडिया प्रभारी असगर अली, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष अमजद सिद्दीकी, प्रियंका यादव, बृजेश कुमार मिश्रा, वरिष्ठ सदस्य मंगला प्रसाद, मुकेश कुमार, सुरेंद्र कुमार, शिवकरन, जैगम हलीम, मोहम्मद मेराज, कुलदीप सिंह खालसा, नरेंद्र सिंह आनंद त्रिपाठी, शिव बाबू वर्मा, नीरज श्रीवास्तव सहित दर्जनों एनएमसी परिवार के सदस्य, अन्य स्थानीय पत्रकार एवं जनमानस उपस्थित रहें।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

विधायक के चित्र में कालिख पोतने से उंचाहार में गरमाई राजनीति

ऊँचाहार/रायबरेली। । क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर लगी क्षेत्रीय विधायक व सपा पदाधिकारियों की होर्डिंग को ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *