Breaking News

समाधान यात्रा के तीसरे दिन वैशाली पहुंचे नीतीश कुमार कहा- पता चले कितने लोग गरीब…

सीएम नीतीश कुमार समाधान यात्रा के तीसरे दिन शनिवार को वैशाली पहुंचे। इस दौरान उनके साथ डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी थे। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आए हैं कि यह भी तो पता चले कि कितना लोग गरीब है, कैसे उसको आगे बढ़ाना है, इन्हीं सब चीजों को देखने के लिए आए हैं। सब देखकर रिपोर्ट लेंगे और केंद्र सरकार को भिजवा देंगे कि आप देख लीजिए।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि भाई, केंद्र का काम क्या है ? पूरे राज्य को, पूरे देश को विकसित करना। अगर कोई राज्य पिछड़ा है तो क्या उसको आगे नहीं बढ़ाइएगा। केवल जाति-जनगणना से नहीं चलना है। आर्थिक स्थिति को भी जानना है। हर जाति के सिर्फ दलित और पिछड़े का ही नहीं, सभी का जानना है।

उन्होंने सबसे पहले हरसेर गांव में मजार पर चादरपोशी की। जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए एक दर्जन से अधिक स्टॉल का बारीकी से निरीक्षण किया। सबसे पहले महिला हेल्प लाइन द्वारा बनाए गए स्टॉल का निरीक्षण किया और बेटियों की सुरक्षा से सम्बंधित किये जा रहे कार्यो की जानकारी ली। इसके बाद आंगनबाड़ी, जीविका, जिला उद्योग कार्यालय, डीआरसीसी के अलावा जिला कृषि कार्यालय द्वारा विभिन्न तरह के लगाए गए कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी का भी जायजा लिया। साथ ही सीएम ने सोलर सिस्टम से चलने वाले स्ट्रीट लाइट योजना का भी शुभारंभ किया। उसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने मौजूद लोगों से बातचीत की । वहीं सीएम के साथ बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव, जल संसाधन मंत्री संजय झा, वित्त मंत्री विजय चौधरी, वैशाली के जदयू विधायक सिद्धार्थ पटेल, महुआ से राजद विधायक मुकेश रोशन के साथ तमाम नेता शामिल हुए।

चार जनवरी से शुरू सीएम की समाधान यात्रा पश्चिम चम्पारण, शिवहर, सीतामढ़ी के बाद शनिवार को वैशाली जिला में पहुंच रही है। सीएम की इस यात्रा को लेकर प्रशासनिक स्तर पर भगवानपुर प्रखंड और गोरौल प्रखंड में व्यापक तैयारी की गई है। इन प्रखंडों में सरकार की सात निश्चय समेत विभिन्न योजनाओं को धरातल पर उतारा गया है।

सीएम यहां सरकारी योजनाओं की कमियों और खामियों के समाधान करने को लेकर लोगों से मिलेंगे। इस दौरान यहां कोई खामियां न निकल आएं, इसके लिए जिला प्रशासन ने रात-दिन एक कर गांव में विकास पहुंचाया है। इसको लेकर ग्रामीणों में खुशी का माहौल है। सीएम की समाधान यात्रा को लेकर चिन्हित पंचायत की सूरत बदल चुकी है। गांव की सड़कों सहित घरों का रंग-रोगन एवं घरों पर नशा मुक्ति का स्लोगन लिखकर शराब का सेवन न करने का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। सोलर स्ट्रीट लाइट, यहां की पोखर पर जंगल की साफ सफाई, पौधाें की रंगाई, नल जल एवं पानी टंकी को सुंदर बनाने, रास्ते की मरम्मत एवं पोखर को व्यवस्थित करने एवं अन्य कार्यों के लिए अधिकारियों ने दिन-रात एक किया है।

About News Room lko

Check Also

सड़क हादसे में मैनपुरी में तैनात महिला जज की मौत

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिरोजाबाद। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फिरोजाबाद जनपद के ...