Breaking News

पूर्वोत्तर रेलवे ने माल परिवहन को बढ़ावा देने के लिये विकसित किये 06 ‘गतिशक्ति मल्टी-मॉडल कार्गो-टर्मिनल‘

लखनऊ। पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा माल परिवहन को बढ़ावा देने के लिये अनेक अभिनव प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में पूर्वोत्तर रेलवे के लखनऊ मण्डल में 04 तथा इज्जतनगर मण्डल में 02 ‘गतिशक्ति मल्टी-मॉडल कार्गो-टर्मिनल‘ (जी.सी.टी.) विकसित किये जा रहे हैं। इस रेलवे पर तीन नये मल्टी मॉडल कार्गो टर्मिनल विकसित किये गये हैं तथा अन्य टर्मिनलों का निर्माण कार्य लक्ष्य के अनुसार प्रगति पर है।

पूर्वोत्तर रेलवे ने माल परिवहन को बढ़ावा देने के लिये विकसित किये 06 ‘गतिशक्ति मल्टी-मॉडल कार्गो-टर्मिनल‘

भारतीय रेल की ‘गतिशक्ति मल्टी-मॉडल कार्गो टर्मिनल‘ (जी.सी.टी.) योजना के अन्तर्गत माल परिवहन हेतु आधारभूत संरचना को मजबूत करने के साथ ही माल परिवहन के नये क्षेत्रों को रेल की ओर आकर्षित करना है। इस योजना के तहत टर्मिनलों के विकास से उद्योगों को बहुत सहूलियत हो रही है, साथ ही रेल प्रशासन को पर्याप्त मात्रा में माल परिवहन हेतु सामग्री उपलब्ध हो रही है।

पूर्वोत्तर रेलवे के लखनऊ मण्डल में गोरखपुर-आनन्दनगर खण्ड पर नकहा जंगल स्टेशन में मेसर्स हिन्दुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड, गोरखपुर हेतु गति शक्ति मल्टी मॉडल कार्गो विकसित किया गया है। इसी प्रकार लखनऊ मण्डल के गोरखपुर-बस्ती रेल खण्ड के सहजनवा रेलवे स्टेशन के पास मेसर्स अंकुर उद्योग लिमिटेड (स्टील डिवीजन) तथा इज्जतनगर मंडल के कानपुर सेण्ट्रल-फर्रूखाबाद खण्ड पर जशोदा स्टेशन पर मेसर्स अडानी एग्रो लाजिस्टिक्स (कन्नौज लिमिटेड) हेतु मल्टी मॉडल कार्गो टर्मिनल बनाया गया है। इन ‘गतिशक्ति मल्टी-मॉडल कार्गो-टर्मिनल‘ का विकास हो जाने पर माल परिवहन के नये क्षेत्र पूर्वोत्तर रेलवे की ओर आकर्षित होंगे तथा माल परिवहन में आशातीत वृद्धि होगी।

रिपोर्ट – दया शंकर चौधरी

About reporter

Check Also

गन्ना किसानों के लिए रालोद के प्रदेश अध्यक्ष का छलका दर्द, कहा‌ – मिल मालिक दबाये बैठे हैं किसानों का हज़ारों करोड़ रूपया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, August 11, 2022 लखनऊ। ...