भीड़ जुटाने के लिए सरकारी खजाने का पैसा लुटा रही भाजपा- लोकदल

लखनऊ। लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह जनसभा को संबोधित करते हुए कहा की अन्नपूर्णा की एक प्राचीन मूर्ति को कनाडा से वापस भारत में प्रधानमंत्री के प्रयास से लाया गया है इसके लिए पूरे भारत वासियों को बधाई। मूर्ति की वापसी हम सभी के लिए बहुत सुखद है।
लेकिन ‘हर भारतीय को यह जानकर गर्व तब होता जब देश का काला जमा धन भी प्रधानमंत्री जी भारत वापस ले आते। सुनील सिंह ने कहा है कि गरीबों और अमीरों के बीच की दूरी और बढ़ती जा रही है। हर भारतीय नागरिक के खाते में 15 लाख रुपये का वादा करने के बाद भी पिछले सात सालों से सिर्फ बातें ही हो रही हैं, जबकि कोई एक्शन नहीं लिया गया।

नोटबन्दी से काला धन नहीं आया, बल्कि भाजपा सरकार द्वारा उनके कुछ खास पूंजीपतियों को लाभ देकर किसान, मजदूर, छोटे व्यापारियों व मेहनतकश लोगों को नुकसान पहुंचाने का काम किया गया। सरकार द्वारा इस अचानक लिए गए फैसले से लाइन में लगे कितने ही मासूमों की जान चली गयी।

भाजपा सरकार की सच्चाई सामने है। जनता का मोहभंग हो चुका है, इनके झूठे वादों से सब ऊब गये हैं, रैलियों में लोग आ नहीं रहे, इसीलिए भींड़ दिखाने के लिए भाजपा द्वारा सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया जा रहा है, जो कि अतिनिंदनीय है।

अर्थव्यवस्था की हालत खराब है देश के प्रधानमंत्री की सभा के लिए दो लाख की भीड़ जुटाने के लिए सरकारी खजाने को खाली किया जा रहा है सरकारी 2000 बसे लगाए जाने की तैयारी है वाह रे सरकार वाह जनता के टैक्स के पैसे की मेहनत की गाढ़ी कमाई को सरकार प्रधानमंत्री के स्वागत और उनको खुश करने में लगी हुई है। सिंह ने देश के प्रधानमंत्री 16 नवंबर को आ रहे हैं सरकारी तंत्र आधे अधूरे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को दिखाकर उद्घाटन करने में लगी हुई है।

श्री सिंह ने कहा है कि एक्सप्रेस-वे को आधे अधूरे काम को करके जनता की जान को जोखम में डालने का काम कर दिया है। श्री सिंह ने आरोप लगाया है कि 2022 चुनाव को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। जिसको जनता समझ चुकी है और 2022 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से उखाड़ फेंकने का मन बना चुकी है।

About Samar Saleel

Check Also

एनसीसी कैडेटों ने गोमती रिवर फ्रंट पर मनाया नौसेना दिवस

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। नेवी एनसीसी लखनऊ ग्रुप के कैडेट्स ने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *