Breaking News

महँगाई रोकने में यूपी सरकार, वित्तमंत्री फेल, इस्तीफे की मांग- राष्ट्रीय समता पार्टी 

वाराणसी। आज दिनांक 05 अगस्त राष्ट्रीय समता पार्टी के द्वारा संयोजक शशिप्रताप सिंह के नेतृत्व में मुख्यमंत्री वित्तमंत्री को जिलाधिकारी के प्रतिनिधि ACM -2 महेंद्र कुमार श्रीवास्तव के द्वारा 03 सूत्री मांग पत्र दिया गया।

माँगपत्र की सूची निम्नलिखित है-   

  • घरेलू रसोई की सम्मानों से जी एस टी हटाया जाए।
  • पेट्रोल डीजल रसोई गैस को जी एस टी के अंदर लाया जाए।
  • किस किस चीजो पर जी एस टी लगया गया है उसको प्रकाशित कराया जाए।
महँगाई रोकने में यूपी सरकार, वित्तमंत्री फेल, इस्तीफे की मांग- राष्ट्रीय समता पार्टी 

शशिप्रताप सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि जी एस टी के नाम पर खुदरा विक्रेताओं ने लूट मचाई है अपने आप सभी भोजन के समान पर 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दिये गए है इसकी जांच होनी चाहिये

बेरोजगारी और महंगाई बढ़ने की स्पीड बढ़ती ही जा रही है सरकार इसको रोकने में असफल दिखाई दे रही है ताबड़तोड़ बढ़ोतरी से आम जनता त्रस्त है इसका कारण वित्त मंत्री सीतारमन द्वारा घरेलू सामान रसोई के सामान पर जी एस टी लगाने से महंगाई बढ़ी है

खाने की सारी वस्तुओं की कीमत अपने आप 30 प्रतिशत खुदरा विक्रेताओं ने बढा दी है जिससे आम जनता को बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है जिसको लेकर राष्ट्रीय समता पार्टी पत्रक के माध्यम से मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश वित्त मंत्री केंद्र सरकार से मांग करती है कि जल्द से जल्द घरेलू खानपान के समान पर बढ़े जीएसटी को वापस लिया जाए और पेट्रोल डीजल घरेलू गैस को भी जीएसटी के दायरे में लाया जाए पत्रक को नजर अंदाज किया गया तो आमरण अनशन किया जाएगा

प्रमुख रूप से उपस्थित रा0 संयोजक शशिप्रताप सिंह, रा0 अध्यक्ष कैप्टन राजकुमार रा0 अध्यक्ष महिलामंच वंदना, रा0 सलाहकार राजकुमार गुप्ता रा0 उपाध्यक्ष ठाकुर काशी सिंह रा0 महासचिव प्रकाश जयसवाल प्र0अध्यक्ष डॉ राम गोविंद प्रजापति, अध्यक्ष संतोष प्रजापति, गुलाब राजभर, जितेंद्र पटेल, धर्मराज पटेल, दिनेश पटेल, रामकुमार पटेल, गौतम राजभर, विनोद प्रजापति, प्रेमनाथ सिंह गुरुदयाल विश्वकर्मा, राजबहादुर पटेल,  जिलाध्यक्ष मनोज चक्रवाल, प्र0 अध्यक्ष रीता गुप्ता,रंजू देवी, आस्था कविता आदि लोग रहे।

About reporter

Check Also

गन्ना किसानों के लिए रालोद के प्रदेश अध्यक्ष का छलका दर्द, कहा‌ – मिल मालिक दबाये बैठे हैं किसानों का हज़ारों करोड़ रूपया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, August 11, 2022 लखनऊ। ...