रिलायंस इंडस्ट्रीज ने मात्र 58 दिनों में 1,68,818 करोड़ रुपये जुटाए, लक्ष्य से पहले हुई ऋणमुक्त हुई कंपनी

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रिकॉर्ड कायम करते हुए मात्र 58 दिनों की छोटी सी अवधी में 1,68,818 करोड़ रुपये जुटा लिए। इस अवधि में रिलायंस की सब्सिडियरी जियो प्लेटफॉर्म्स में वैश्विक निवेशकों की तरफ से 1,15,693.95 करोड़ रुपये का निवेश आया। वहीं रिलायंस ने राइट्स इश्यू के माध्यम से 53,124.20 करोड़ रु जुटाए।

इतने कम समय में विश्व स्तर पर इतनी पूंजी जुटाना एक रिकॉर्ड है। भारतीय कॉर्पोरेट इतिहास के लिए भी यह अभूतपूर्व हैं। महत्वपूर्ण यह है कि फंड जुटाने का यह लक्ष्य COVID-19 महामारी के कारण हुए वैश्विक लॉकडाउन के बीच हासिल किया गया। पेट्रो-रिटेल क्षेत्र में बीपी के साथ हुए समझौते को भी इसमें जोड़ लें तो रिलायंस ने कुल 1,75,000 करोड़ रुपये से अधिक का फंड हासिल कर लिया है। 31 मार्च 2020 को कंपनी का नेट कर्ज 1,61,035 करोड़ रुपये था। इस इंवेस्टमेंट और राइट्स इश्यू के बाद कंपनी ऋण मुक्त हो गई है।

जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश का सिलसिला पिछले 58 दिनों से जारी है। निवेशक जियो प्लेटफॉर्म्स में 24.70 प्रतिशत इक्विटी के लिए 1,15,693.95 लाख करोड़ का निवेश कर चुके हैं। गुरूवार को PIF ने 2.32 प्रतिशत इक्विटी के लिए जियो प्लेटफॉर्म्स में 11,367 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की थी। जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश के इस चरण में PIF अंतिम निवेशक था। आरआईएल राइट्स इश्यू 1.59 गुना सब्सक्राइब किया गया था। यह पिछले दस वर्षों में एक गैर-वित्तीय संस्था द्वारा दुनिया का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू था। 12 अगस्त 2019 को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के 42 वें एजीएम में मुकेश अंबानी ने शेयरधारकों को 31 मार्च 2021 से पहले रिलायंस को ऋणमुक्त करने का आश्वासन दिया था

Loading...

इस उपलब्धि पर आभार व्यक्त करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा, “31 मार्च 2021 के लक्ष्य से पहले रिलायंस को ऋण मुक्त करने का शेयरधारकों से किया अपना वादा पूरा करने पर आज मैं विनम्रतापूर्वक तरीके से बेहद प्रसन्न हूं। शेयरधारकों और अन्य सभी हितधारकों की उम्मीदों पर लगातार और बार-बार खरा उतरना हमारे DNA का हिस्सा है। इसलिए रिलायंस के ऋण-मुक्त कंपनी बनने के गौरवपूर्ण अवसर पर, मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि अपने स्वर्णिम दशक में रिलायंस और भी अधिक महत्वाकांक्षी विकास लक्ष्य अपने सामने रखेगा और उन्हें पूरा करेगा। हम उन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अपने संस्थापक धीरूभाई अंबानी के उस दृष्टिकोण को पूरी तरह अपनाएंगे जो भारत की समृद्धि और समावेशी विकास में हमारे योगदान को लगातार बढ़ाने का है।”

मुकेश अंबानी ने कहा, “पिछले कुछ हफ्तों से हम Jio में निवेश के लिए वैश्विक वित्तीय निवेशक समुदाय की अभूतपूर्व दिलचस्पी से अभिभूत हैं। वित्तीय निवेशकों से फंड जुटाने के हमारे लक्ष्य के पूरा होने पर हम अपने महत्वपूर्ण निवेशकों के समूह का हृदय से धन्यवाद करते हैं और गर्मजोशी से जियो प्लेटफॉर्म्स में उनका स्वागत करते हैं। मैं सभी खुदरा और घरेलू व विदेशी संस्थागत निवेशकों का राइट्स इश्यू में भारी एवं रिकॉर्ड भागीदारी के लिए दिल से आभार व्यक्त करता हूं।”

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के उपाध्यक्ष ली यांग रिश्वत देने के आरोप में गिरफ्तार, ढाई साल की जेल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भ्रष्टाचार के मामले में दक्षिण कोरिया की राजधानी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *