Breaking News

लखनऊ नगर निगम का पुनरीक्षित बजट वित्तिय वर्ष 22-23 सर्वसम्मति से हुआ पास

लखनऊ। आज नगर निगम में संपन्न हुई कार्यकारिणी समिति की बैठक में वित्तीय वर्ष 2022–2023 का पुनरीक्षित बजट महापौर संयुक्ता भाटिया की अध्यक्षता में सर्वसम्मति से पास किया गया। जिसमें नगर निगम का वित्तीय वर्ष 2022–23 में 19 अरब 58 करोड़ 24 लाख आय के सापेक्ष 19 अरब 57 करोड़ 50 लाख व्यय का पुनरीक्षित बजट सर्वसम्मति से पास किया गया। इसी प्रकार जलकल विभाग का बजट 3 अरब 79 करोड़ 30 लाख आय के सापेक्ष 3 अरब 78 करोड़ 81 लाख व्यय के साथ सर्वसम्मति से पास किया गया। जबकि पुनरीक्षित बजट में जनता पर कोई नया कर नहीं लगाया गया है। महापौर संयुक्ता भाटिया द्वारा अपने कार्यकाल के लगातार पाँच वर्षों में जनता पर कोई भी कर नहीं बढ़ाया गया।

पास किए गए बजट के प्रमुख बिंदु

शहर की सफाई व्यवस्था एवं कूड़े का प्रबंधन होगी और भी बेहतर, सफाई एवं कूड़े प्रबंधन का बढ़ाया बजट

महापौर संयुक्ता भाटिया शहर की सफाई व्यवस्था एवं लखनऊ की जनता को कूड़े से मुक्ति के लगातार प्रयासरत है। इसी उद्देश्य से सफाई एवं अपशिष्ट प्रबंधन का व्यय बढ़ाया गया है। अधीनस्थ अधिष्ठान (सफाई) का व्यय 110 करोड़ से बढ़ाकर 117 करोड़ किया गया। जिससे सदन में महापौर के निर्णय अनुसार 15% सफाई कर्मचारी बढ़ाये जायेंगे। नगरीय ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर व्यय को 40 करोड़ से बढ़ाकर 75 करोड़ किया गया। लखनऊ शहर होगा और भी जगमग, खाली पड़े खम्बो पर लगाई जाएगी लाइटें। #महापौर संयुक्ता भाटिया ने शहर की प्रत्येक गलियों को अंधेरे से मुक्ति के लिए लगातार प्रयासरत है। नई लाइटों की व्यवस्था हेतु इस बार 1 करोड़ अधिक व्यय किया जाएगा। मार्ग प्रकाश (अधिष्ठान) के व्यय को 12 करोड़ से बढ़ाकर *13 करोड़* किया गया। अस्थाई प्रकाश व्यवस्था के व्यय को 2 करोड़ से बढ़ाकर 4 करोड़ किया गया।

शहर की गलियां, नालियां व पार्क होंगे सुव्यवस्थित एवं सुसज्जित

शहर की प्रत्येक गलियों में सड़क हो, नालियां हो, शहर के सभी पार्क साफ-सुथरे एवं सुसज्जित हो, महापौर संयुक्ता भाटिया अपने कार्यकाल के प्रथम दिन से ही इसके लिए प्रयासरत रही है। उनकी इसी मंशा के अनुरूप इस बार निर्माण कार्य के व्यय को इस पुनरीक्षित बजट को बढ़ाया गया है।

  • नए निर्माण कार्य पर व्यय के लिए 5 करोड़ से बढ़ाकर 6 करोड़ किया गया।
  • मरम्मत कार्य पर व्यय के लिए 50 लाख से बढ़ाकर 70 लाख किया गया।
  • पार्क अधिष्ठान एवं अनुरक्षण हेतु 29 करोड़ को बढ़ाकर 30 करोड़ किया गया।
  • सार्वजनिक निर्माण कार्य (मरम्मत, निर्माण कार्यों के दायित्व एवं अन्य) के व्यय 263 करोड़ से बढ़ाकर 291.5 करोड़ किया गया।

जलकल विभाग द्वारा पास किए गए प्रस्ताव 

सभी को मिलेगा स्वच्छ जल एवं शहर की सीवर लाइने होगी दुरुस्त

स्वच्छ जल सभी नागरिकों का अधिकार है इसी वाक्य को चरितार्थ करते हुए महापौर #संयुक्ता_भाटिया के निर्देश पर इस बार नए पंप एवं पुराने हो चुके पंप के मरम्मत के लिए पुनरीक्षित बजट को बढ़ाया गया है। सबमर्सिबल मोटर पंप, स्टार्टर, मरम्मत व अनुरक्षण पर व्यय को 2 करोड़ से बढ़ाकर 4 करोड़ 50 लाख कर दिया गया है। नलकूप–मिनी नलकूप बोरिंग, पुनः बोरिंग, पुनर्विकास के व्यय को 7 करोड़ से बढ़ाकर 9 करोड़ 50 लाख किया गया। जल नालिकाओं का विस्तार (पाइप सहित) के व्यय को 4 करोड़ 50 लाख से बढ़ाकर 5 करोड़ 50 लाख किया गया। पाइपलाइन मरम्मत व अनुरक्षण पर व्यय को 4 करोड़ से बढ़ाकर 5 करोड़ 50 लाख कर दिया गया है।

शहर को मिलेगा गंदे सीवर एवं खुले मेनहोल से मुक्ति

गंदे सीवर लाइन एवं खुले मेनहोल की लगातार आ रही शिकायतों को ध्यान में रखते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया के निर्देश पर सीवर लाइनों को सफाई एवं सभी खुले मैनहोल को ढकने के लिए इस बार व्यय को बढ़ाया गया है।सीवेज पंपिंग स्टेशन मरम्मत वा अनुरक्षण के व्यय को 50 लाख से 80 लाख किया गया।

• सीवर लाइनों की सफाई के व्यय को 25 लाख से बढ़ाकर 50 लाख किया गया।

•सीवर नालिकाओं का विस्तार (पाइप सहित) के व्यय को 2 करोड़ से 2 करोड़ 40 लाख किया गया।

• मेनहोल कवर पर व्यय को 20 लाख से बढ़ाकर 50 लाख किया गया।

• मेनहोल मरम्मत वा अनुरक्षण के व्यय को 1 करोड़ 50 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ 75 लाख किया गया।

कुछ अन्य प्रस्ताव जो पास हुए 

अटल बिहारी वाजपेई नगर निगम डिग्री कॉलेज के नए भवन निर्माण एवं नए ऑडिटोरियम के लिए 2 करोड़ रुपए पास किए गए।  महापौर के निर्देश पर सभी वार्ड के खाली पोल पर लाइट लगाई जाएंगी। जिसकी सूची पार्षद उपलब्ध कराएंगे। नगर निगम की समस्त गाड़ियों (कूड़ा उठाने वाली, स्वीपिंग मशीन, रोबोट मशीन, इत्यादि) की in और out timing फिक्स की जाएगी जिससे गाड़ियों की बेहतर रख रखाव एवं प्रबंधन हो सके। आज संपन्न हुई कार्यकारिणी में महापौर संग नगर आयुक्त सहित सभी कार्यकारिणी सदस्य एवं अधिकारी गण उपस्थित रहे।

About Samar Saleel

Check Also

परिवार से दूर रहकर काम-धंधे के साथ बीमारी को मात देना कठिन पर असम्भव नहीं- बलिराम कुमार खैरवार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें • प्रवासी कामगार बलिराम की मानो बात- लक्षण ...