Breaking News

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में उप्र वेयर हाउसिंग तथा लॉजिस्टिक्स नीति, 2018 के अन्तर्गत प्राधिकार प्राप्त समिति की बैठक आयोजित

• बैठक में वेयरहाउसिंग की दो परियोजनायें अनुमोदित

• धीमी प्रगति से हो रहे कार्यों पर मुख्य सचिव ने यूपीसीडा के अधिकारियों को लगाई फटकार

लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश वेयर हाउसिंग तथा लॉजिस्टिक्स नीति, 2018 के अन्तर्गत प्राधिकार प्राप्त समिति की पंचम बैठक आयोजित की गई। बैठक में वेयरहाउसिंग इकाई (न्यू ग्रीन फील्ड प्रोजेक्ट्स) के अन्तर्गत मैसर्स के.जे. इंटरप्राईजेज और मैसर्स ग्रीन स्पेश वेयरहाउसिंग एलएलपी की परियोजना को अनुमोदन प्रदान किया गया। मैसर्स के.जे. इंटरप्राईजेज द्वारा लखनऊ के ग्राम परवर (बिजनौर) में 25.83 करोड़ रुपये की लागत से 26,780 वर्गमीटर क्षेत्रफल में तथा मैसर्स ग्रीन स्पेश वेयरहाउसिंग एलएलपी द्वारा हापुड़ के ग्राम छजारसी में 68.98 करोड़ रुपये की लागत से 47516 वर्गमीटर क्षेत्रफल में वेयर हाउसिंग इकाई का निर्माण किया जायेगा।


निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान उन्होंने धीमी प्रगति से हो रहे कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि एक सप्ताह उपरान्त निर्माणाधीन परियोजनाओं की प्रगति की पुनः समीक्षा की जाएगी। इससे पूर्व बैठक में बताया गया कि मे. नानक लॉजिस्टिक प्रालि. की लखनऊ में 85.35 करोड़ रुपये की लागत से 20 एकड़ क्षेत्रफल में वेयरहाउिसंग फैसिलिटी परियोजना का कार्य पूर्ण हो चुका है और यह परियोजना वर्तमान में क्रियाशील है। इसके अतिरिक्त मे. अमृत कौर की लखनऊ में 26.50 करोड़ रुपये की लागत से 3.13 एकड़ क्षेत्रफल में तथा मे0 बीजी लिंक इंफ्रास्ट्रक्चर एलएलपी के 69.73 करोड़ रुपये की लागत से 12.50 एकड़ क्षेत्रफल में वेयरहाउसिंग फैसिलिटी परियोजना का कार्य पूर्ण हो चुका है।

इसके अतरिक्त मे. निरपुरिया इंटरप्राइजेज की लखनऊ में 25.57 करोड़ रुपये की लागत से 2.80 एकड़ क्षेत्रफल में वेयरहाउसिंग फैसिलिटी परियोजना का कार्य प्रगति पर है। बैठक में अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त अरविन्द कुमार, जल निगम के एमडी अनिल कुमार, यूपीपीसीएल के एमडी पंकज कुमार, एसीईओ यूपीसीडा प्रेम प्रकाश मीना सहित संबंधित विभागों के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण आदि मौजूद थे।

About Samar Saleel

Check Also

राज्यपाल द्वारा नैक प्रस्तुतिकरण की समीक्षा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल द्वारा वीर बहादुर सिंह ...