Breaking News

स्कूल के लिए निकली दो छात्राएं लापता , परिजन बने जेम्स बॉन्ड

लखनऊ- राजधानी के गुडम्बा थानाक्षेत्र मे शुक्रवार के दिन दो छात्राएं से स्कूल के निकली थी व लौट कर घर वापस नहीं आई । परिजनों ने गुडम्बा थाने मे नामजद तहरीर देते हुये विधिक कार्यवाही की माग किया है ।  पुलिस मुकदमा पंजीकृत कर आगे की पड़ताल कर रही है ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जानकीपुरम सैक्टर एच निवासिनी पलक (13) व शारीका (12) (दोनों काल्पनिक नाम ) जानकीपुरम स्थित एक निजी विध्यालय की कक्षा 8 की छात्रा है । पलक के पिता सब्जी का ठेला लगाते है व शारीका के पिता पुणे मे पंचर की दुकान चलाते है । शुक्रवार सुबह दोनों स्कूल जाने के लिए निकली थी परंतु घर वापस लौट कर नहीं आई । चिंतित परिजनों ने स्कूल मे जाकर पता किया तो पता चला दोनों छत्राए शुक्रवार को स्कूल नहीं आई थी । परिजनो ने आस पास व अपने रिशतेदारों से पूछताछ किया । जब दोनों का कोई भी पता नहीं चला पारिजनों ने गुडम्बा थाने मे तहरीर दिया । गुडम्बा पुलिस ने अपने स्तर से खोजबीन करने की मुफ्त मे सलाह दे दिया । पारिजनों ने अपने स्तर से तलाश किया व कुछ संदिग्धों को नामजद करते हुये पुलिस को लिखित तहरीर दिया जिसपर पुलिस मुकदमा पंजीकृत करते हुये आगे की कार्यवाही करने का दावा कर रही है ।

परिजन बने जेम्स बॉन्ड

पुलिस से मिली सलाह के बाद दोनों छात्राओ के पारिजनों ने  20 लोगो की टीम बनाकर पूरे लखनऊ मे तलाश शुरू कर दिया । शारीका के भाई ने बताया की सभी लोग मिलकर लखनऊ के सारे पार्क , बस अड्डा व रेलवे स्टेशन पर अपने स्तर से पड़ताल करना शुरू कर दिया । परिजन आस पास के आउट0-टेम्पो स्टैंड पर भी पड़ताल शुरू कर दिये तभी सहारा स्टेट ऑटो स्टैंड पर एक ऑटो चालक ने फोटो के आधार पर दोनों लड़कियों को पहचानते हुये बताया की ये दोनों लड़कियाँ व तीन लड़को को उसने चारबाग रेलवे स्टेशन पर छोड़ा था । पांचों ने जानकीपुरम से चारबाग जाने के लिए 250 रुपये मे ऑटो लिया था । ऑटो चालक  तीनों लड़को की फोटो देखकर उनकी पहचान कर लिया है । तीनों युवको की पहचान जानकीपुरम सैक्टर एच निवासी शुभम, अंकित व तुषार के रूप मे किया है । पुलिस लड़को के परिजनों से पूछताछ कर रही है ।

Loading...

एक आरोपी की माँ संदेह की घेरे मे

शरीका के भाई ने आरोपी शुभम की माँ पर संदेह जताते हुये गंभीर आरोप लगाया है । उसने बताया की शुभम की माँ कुछ गलत महिलाओ के संपर्क मे है व नाबालिक गरीब लड़कियों को बहला फुसला कर असामाजिक कर्मो के तरफ धकेल देती है । बहरहाल सच्चाई क्या है इस बात की पुष्टि के लिए पुलिस पड़ताल कर रही है ।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

2.5 कि.मी. हस्ताक्षर बेनर का “लिम्का बुक ऑफ इंडिया रिकॉर्ड” में नाम दर्ज…

लखनऊ। सेंटर फॉर मेंस राइट प्रोटेक्टशन (पुरुष परिवार परामर्श केंद्र) लखनऊ एवं पुरुष आयोग समन्वय ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *