Sitapur : कॉलेज में चर रही थी अवैध शराब की फैक्ट्री

सीतापुर । Sitapur जिले में नेपाल सिंह महिला महाविद्यालय के कमरों में अवैध शराब की फैक्ट्री मिली। पुलिस ने 1500 पेटियों में पैक शराब के साथ बीस हजार खाली बोतल, ढक्कन, गत्ते, प्रिंट किए हुए होलोग्राम और स्टीकर के अलावा पैकिंग मशीन भी बरामद किया। सीओ सिटी का कहना है कि कॉलेज के कमरों में काफी समय से अवैध शराब बनाकर पैकिंग करने का कार्य किया जा रहा था। कॉलेज के प्रबंधक पूर्व ब्लाक प्रमुख सहित पांच लोगों पर अभियोग दर्ज किया गया है।

Sitapur के पुलिस अधिकारियों ने

सीतापुर Sitapur के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रात करीब नौ बजे दी गई दबिश के दौरान सीओ सिटी योगेन्द्र सिंह के साथ इंस्पेक्टर खैराबाद सचिन सिंह और बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद था। पुलिस छापेमारी में मौके से खैराबाद के अकबर गांव का रहने वाले नसीर, सकरन के दुगाना गांव वासी विनीत जायसवाल को गिरफ्तार किया गया। नेपाल सिंह महिला महाविद्यालय में मौजूद चौकीदार राहुल सिंह भागने में सफल रहा।

सीओ का दावा है कि कॉलेज के प्रबंधक पूर्व ब्लाक प्रमुख हरगांव अभय सिंह अपने ही महाविद्यालय में अवैध शराब बनवाकर सरकारी शराब की दुकानों और अन्य स्थानों पर माल खपाता रहा है। कालेज के कमरों से मिलावटी शराब पैक करने की मशीन भी मिली है। सीतापुर-लहरपुर मार्ग स्थित महाविद्यालय से वाहनों के द्वारा इस अवैध कारोबार की सप्लाई होती रही है। माल जब्त कर पांच आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है।

अवैध शराब का जखीरा मिलने के बाद इंस्पेक्टर खैराबाद ने पूर्व ब्लाक प्रमुख अभय सिंह, सकरन के दुगाना निवासी विनीत जायसवाल, अकबरपुर गांव के नसीर, कमलापुर के बिजुवामऊ निवासी बाबू जायसवाल, कालेज के चौकीदार राहुल सिंह आदि पर अभियोग पंजीकृत किया है। इंस्पेक्टर खैराबाद सचिन सिंह का दावा है कि अवैध शराब की फैक्ट्री में बने माल को खपाने का कार्य मास्टर माइण्ड बाबू जायसवाल करता रहा है। पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ में पता चला है कि मिलावटी माल जिले की कई शराब की दुकानों के अलावा गैर जनपद के लिए वाहनों से सप्लाई किया जाता था।

 

About Samar Saleel

Check Also

लता मंगेशकर चौक : संगीत साधना का सम्मान 

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें पौराणिक स्थलों को विश्व स्तरीय बनाने के अनेक ...