Breaking News

मृदा और जल हमारे जीवन का आधार: डॉ लीना मिश्र

 

• बालिका विद्यालय में विश्व मृदा दिवस के अवसर पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन

• बंजर धरती करे पुकार पेड़ लगाकर करो श्रृंगार

लखनऊ। बालिका विद्यालय इंटरमीडिएट कॉलेज में 5 दिसंबर को विश्व मृदा दिवस के अवसर पर सेवा संकल्प लखनऊ एवं स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के संयुक्त तत्वावधान में चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित हुई।

मृदा और जल हमारे जीवन का आधार: डॉ लीना मिश्र

5 दिसंबर को मनाया जाने वाला विश्व मृदा दिवस, बढ़ती जनसंख्या के कारण कटते वन, बढ़ते उद्योग के कारण बंजर होती धरती और असमय भारी वर्षा एवं बाढ़ से मिट्टी में होते कटाव को कम करने की दिशा में काम करने वाले लोगों और कृषकों को उपजाऊ मिट्टी को संरक्षित करने के विषय में जागरूक करने तथा संसाधन के रूप में मिट्टी के स्थायी प्रबंधन को सुनिश्चित करने की ओर प्रेरित, प्रोत्साहित और प्रवृत्त करता है। विश्व मृदा दिवस 2023 मृदा और जल, जीवन का स्रोत विषय पर केंद्रित है।

मृदा और जल हमारे जीवन का आधार: डॉ लीना मिश्र

मनुष्य और साथ ही साथ संपूर्ण पशु जगत का पूरा जीवन मिट्टी में उपजने वाले अनाज, फल फूल इत्यादि पर ही आधारित रहता है।

👉8 व 9 दिसंबर को जयपुरिया में रहेगी ‘ओजस-23’ की धूम

बालिका विद्यालय की छात्राओं को जल और मिट्टी के महत्व को समझने एवं उन्हें जागरूक करने हेतु तथा उनके माध्यम से उनके घर, परिवार और पड़ोस को जागरूक करने हेतु इस प्रतियोगिता का आयोजन हुआ।

मृदा और जल हमारे जीवन का आधार: डॉ लीना मिश्र

कक्षा छः से कक्षा आठ तक की छात्राओं ने रागिनी यादव और मंजुला यादव के निर्देशन में प्रतिभाग किया और जल तथा मिट्टी के महत्व को रेखांकित करते हुए उन्होंने अपनी कल्पनाओं को ड्राइंग शीट पर उकेरा।

👉सीएमएस छात्रों ने जीते 15 गोल्ड मेडल

सेवा संकल्प लखनऊ की प्रतिनिधि के रूप में सुखप्रीत कौर ने छात्राओं के कार्य की सराहना की और कक्षा 8 की सुमन कनौजिया को प्रथम, कक्षा 6 की इल्मा को द्वितीय तथा कक्षा 8 की खुशबू गौतम को तृतीय स्थान पर चयनित किया।

मृदा और जल हमारे जीवन का आधार: डॉ लीना मिश्र

प्रतिभाग करने वाली समस्त छात्राओं को संस्था और एसबीआई की तरफ से प्रमाण पत्र दिए गए और विजयी छात्राओं को स्मृति चिन्ह और प्रमाण पत्र से पुरस्कृत किया गया।

सुखप्रीत कौर द्वारा विद्यालय की प्रधानाचार्य डॉ लीना मिश्र को स्मृति चिन्ह द्वारा सम्मानित कर उनके कार्य की सराहना की गई। साथ ही इस प्रोग्राम की कोऑर्डिनेटर रागिनी यादव और मंजुला यादव को भी स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। पुरस्कार पाकर छात्राओं के चेहरे खिल उठे।

About Samar Saleel

Check Also

वास्तुकला संकाय में “सोने की चिड़िया” का मंचन हुआ

• “भारत रंग महोत्सव” के 25 वें वर्ष के उपलक्ष्य में “जन भारत रंग” का ...