Breaking News

पैगंबर विवाद के बीच भारत और ईरान के विदेश मंत्रियों के बीच हुई चाबहार पोर्ट के विकास पर वार्ता

भारत और ईरान ने मध्य एशिया सहित क्षेत्र के लिए एक ट्रांजिट हब के तौर पर चाबहार पोर्ट के विकास पर सहयोग जारी रखने की अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की है ईरान के विदेश मंत्री की भारत यात्रा ऐसे समय हुई है, जब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दो पूर्व पदाधिकारियों की पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादास्पद टिप्पणी को लेकर पश्चिम एशियाई देशों द्वारा आक्रोश व्यक्त किया जा रहा है.

दोनों देशों के प्रतिनिधि प्रमुख पोर्ट के परिचालन पहलुओं को संबोधित करने के लिए जल्द ही मिलेंगे।विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘ अफगानिस्तान, यूक्रेन, संयुक्त व्यापक कार्य योजना (जेसीपीओए) सहित क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया. ” दोनों पक्षों के बीच सिविल एवं वाणिज्यिक मामलों में साझा कानूनी सहायता के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए.

अपनी यात्रा के दौरान ईरानी विदेश मंत्री होसैन आमिर अब्दुल्लाहियन ने पीएम नरेंद्र मोदी से और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ भी बैठक की। अगस्त 2021 में इब्राहिम रईसी के राष्ट्रपति बनने के बाद ईरानी विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियन की यह पहली भारत यात्रा है।

 

About News Room lko

Check Also

श्रीलंका को आर्थिक संकट से उबारने की दिशा में भारत ने बढ़ाए हाथ

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अबतक के सबसे भीषण आर्थिक संकट का सामना ...