ताउते तूफान ने वानखेड़े की साइटस्क्रीन को किया नहस तबाह, अब अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम को खतरा

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ताउते तूफान ने 90 किलो प्रतिघंटे की रफ्तार से दस्तक दी. उसने मुंबई और आसपास के इलाकों में जमकर तबाही मचाई. कई इलाकों में पानी भर गए तो कई मकान ढह गए. कई घरों की छतें भी उड़ा ले गया ताउते. ताउते की मचाई तबाही का खौफनाक मंजर देखने के बाद हर कोई हिल गया. इस तूफान ने लोगों के घर उजाड़े, उनके जान, माल को नुकसान पहुंचाया तो साथ ही क्रिकेट को भी नुकसान पहुंचाया.

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का सिर भी ताउते तूफान की ताकत देख चकराता दिखा. ताउते जब मुंबई को तबाह और बर्बाद कर रहा था, उस वक्त रवि शास्त्री ट्विटर पर उसके जोर का वर्णन अपने शब्दों में ट्विटर पर कर रहे थे. उन्होंने लिखा- ” तूफान तो तूफान होता है. बहुत खतरनाक था. ये अब भी जारी है. हमारे फींगर क्रॉस हैं इस उम्मीद के साथ की ज्यादा तबाही न मचाए.”

ताउते तूफान ने वानखेड़े की 16 फीट की साइटस्क्रीन को तहस-नहस कर डाला. मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने TOI को बताया कि “नॉर्थ स्टैंड पर लगी साइट स्क्रीन को तूफान से नुकसान हुआ है. हवा के तेज दबाव से वो गिर गई है. हालांकि ये साइटस्क्रीन 2011 वर्ल्ड कप के दौरान भी गिरी थी. ऐसे में ये कोई बड़ी बात नहीं है. ”

वानखेड़े स्टेडियम को ताउते से जितना नुकसान पहुंचना था वो पहुंच चुका है. लेकिन अब बड़ा खतरा अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम के लिए हैं. ताउते तूफान ने जितनी रफ्तार से मुंबई को हिट किया उससे तकरीबन दोगुनी रफ्तार से गुजरात के तट को हिट किया है. ये रफ्तार 150 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 175 किलोमीटर प्रतिघंटे थी. खबर है कि आज ताउते अहमदाबाद और गांधीनगर जैसे शहरों में तबाही मचा सक़ता है. और, इस लिहाज से वानखेड़े स्टेडियम के बाद अब नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम को नुकसान पहुंचने का बड़ा खतरा मंडरा रहा है.

About Aditya Jaiswal

Check Also

विंबलडन के मिश्रित युगल सेमीफाइनल में किया सानिया-पाविच की जोड़ी ने प्रवेश

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा और ...