Breaking News

पुतिन के आवास पर ड्रोन से हुआ हमला, अब बौखलाया रूस

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) के क्रेमलिन आवास पर यूक्रेनी ड्रोन के दो हमलों की कथित कोशिशों के बाद रूस बौखला गया है। रूस के बड़े नेता और रूसी सुरक्षा परिषद के उपाध्यक्ष दिमित्री मेदवेदेव ने अपने टेलीग्राम चैनल पर यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के खात्मे की अपील की है।

👉चीन से तनाव के बीच भारतीय सेना ने किया ऐसा, खूब गरजीं बोफोर्स तोपें

दिमित्री मेदवेदेव ने अपने टेलीग्राम चैनल पर कहा, “रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के क्रेमलिन स्थित आवास पर यूक्रेन द्वारा ड्रोन हमले के बाद, मास्को के पास यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की और उसके गुट के खात्मे के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आवास पर हमला

मेदवेदेव ने अपने टेलीग्राम चैनल पर कहा, “आज के आतंकवादी हमले के बाद, ज़ेलेंस्की और उसके गुट के खात्मे के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।” मेदवेदेव के अनुसार, ज़ेलेंस्की को “बिना शर्त आत्मसमर्पण के एक दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने की अब कोई जरूरत नहीं है।”

इससे पहले बुधवार को रूसी अधिकारियों ने आरोप लगाया था कि यूक्रेन ने बीती रात राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की हत्या के नाकाम प्रयास में क्रेमलिन पर दो ड्रोन से हमला किया। रूस ने इसे “आतंकवादी कृत्य” करार देते हुए इसका बदला लेने का वादा किया है।

उधर, यूक्रेनी राष्ट्रपति ने इससे इनकार करते हुए कहा, “हम पुतिन या मॉस्को पर हमला नहीं करते।” क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने रूस की सरकारी समाचार एजेंसी ‘आरआईए नोवोस्ती’ को बताया कि पुतिन उस समय क्रेमलिन में नहीं थे और नोवो-ओगारियोवो निवास से काम कर रहे थे। क्रेमलिन पर किए गए कथित हमले का कोई स्वतंत्र सत्यापन नहीं हो पाया है। इसके बारे में रूस के अधिकारियों ने कहा कि यह रातोंरात हुआ लेकिन इसका समर्थन करने के लिए कोई सबूत पेश नहीं किया। सवाल यह भी उठे कि क्रेमलिन को इस घटना की सूचना देने में घंटों क्यों लग गए और इसके वीडियो भी इतनी देर में क्यों सामने आए।

स्थानीय मॉस्को समाचार टेलीग्राम चैनल पर जारी एक वीडियो में क्रेमलिन के ऊपर धुएं जैसा उठता दिखाई दिया है। यह वीडियो संभवत: क्रेमलिन के सामने नदी पार से बनाया गया है। वीडियो के साथ दी गई जानकारी के अनुसार, पास के एक अपार्टमेंट बिल्डिंग के निवासियों ने स्थानीय समयानुसार देर रात लगभग ढाई बजे धमाकों की आवाज सुनने और धुआं देखने की सूचना दी। पोस्ट किए गए वीडियो की स्वतंत्र रूप से पुष्टि करना संभव नहीं है।

क्रेमलिन ने कहा कि रूसी सेना और सुरक्षा बलों ने ड्रोन को हमला करने से पहले ही रोक दिया। इसमें किसी को चोट नहीं आई। क्रेमलिन की वेबसाइट ने कहा कि ड्रोन से मलबा बिना किसी नुकसान के मॉस्को के इस ऐतिहासिक महल के मैदान में गिर गया।

पांच नॉर्डिक देशों के नेताओं के साथ बातचीत के लिए हेलसिंकी की अघोषित यात्रा पर गए जेलेंस्की ने हमले में किसी भी भूमिका से इनकार किया। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हम पुतिन या मॉस्को पर हमला नहीं करते हैं। हम अपने क्षेत्र पर लड़ते हैं। हम अपने गांवों और शहरों की रक्षा कर रहे हैं।”

मामले से परिचित एक अमेरिकी अधिकारी के अनुसार, अमेरिकी खुफिया अधिकारी भी रूसी दावों पर गौर कर रहे हैं, लेकिन अभी तक कोई दृढ़ संकल्प व्यक्त नहीं किया है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में वाशिंगटन में कहा कि उन्होंने खबर देखी थी लेकिन “मैं उन्हें किसी भी तरह से मान्य नहीं कर सकता। हम बस उसके बारे में नहीं जानते”।

उन्होंने कहा, “…हम देखेंगे कि तथ्य क्या हैं। वास्तव में तथ्य क्या हैं यह जाने बिना इस पर टिप्पणी करना या अनुमान लगाना वास्तव में कठिन है।” कथित ड्रोन हमला 14 महीने के संघर्ष में एक महत्वपूर्ण वृद्धि होगा। यूक्रेन कथित तौर पर युद्ध को रूसी शक्ति के केंद्र में ले गया है। रूस मंगलवार को अपना वार्षिक विजय दिवस मनाने की तैयारी कर रहा है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार मिखाइलो पोडोल्याक ने कहा यह दावे रूस को आने वाले दिनों में, “यूक्रेनी शहरों पर, नागरिक आबादी पर, बुनियादी सुविधाओं पर बड़े पैमाने पर हमले को सही ठहराने की अनुमति देगा।” संवेदनशील मामलों पर चर्चा करने के लिए नाम न छापने की शर्त पर सहमत हुए एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि पेंटागन (अमेरिकी रक्षा मंत्रालय) कथित हमलों को देख रहा है।

About News Room lko

Check Also

आगरा में नए शहर मुफ्ती की तैनाती पर विवाद, जामा मस्जिद इंतजामिया कमेटी पर उठाए सवाल

आगरा:  आगरा की जामा मस्जिद इंतजामिया कमेटी के नए शहर मुफ्ती को तैनात करने का ...