जिस लड़की ने लगाया था दुष्कर्म का आरोप, अब वही आरोपित को देगी 15 लाख रु, जानें पूरा मामला

एक शख्स पर लगे दुष्कर्म के आरोप झूठे पाए जाने के बाद चेन्नई की अदालत ने उस पीड़ित को 15 लाख रुपये का मुआवजा देने का फैसला सुनाया है। उस शख्स पर कॉलेज की छात्रा ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था। इसके बाद उस पर लगभग सात साल तक मुकदमा चला। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दुष्कर्म पीड़िता के डीएनए टेस्ट से पता चला है कि वह युवक आरोपी नहीं था।

ऐसे में युवक ने मुआवजे के लिए केस दायर किया, जिसमें उसने कहा कि झूठे दुष्कर्म के आरोप ने उनके करियर और जीवन को बर्बाद कर दिया। आंशिक रूप से उनकी याचिका की इजाजत देते हुए, अदालत ने मुआवजे के रूप में उस पीड़ित को 15 लाख रुपये का मुआवजा देने का फैसला सुनाया है। अदालत ने यह मुआवजा राशि उस महिला व उसके माता-पिता को झूठी शिकायत दर्ज कराने के बदले में देने का आदेश दिया है।

Loading...

पीड़ित संतोष ने बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की, उसके माता-पिता और सचिवालय कॉलोनी पुलिस निरीक्षक से मुआवज़े के रूप में 30 लाख रुपये की मांग की थी। संतोष के वकील ए सिराजुद्दीन ने कहा कि उनके क्लाइंट का परिवार और महिला का परिवार पड़ोसी थे। वे एक ही समुदाय के थे, परिवारों के बीच यह सहमति थी कि संतोष महिला से विवाह करेगा। हालांकि, बाद में परिवार एक संपत्ति विवाद के बाद अलग हो गए थे, इसके बाद युवती के परिवार वालों ने ये झूठा केस लगा दिया था।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

भारतीय अमेरिकी गीतांजलि राव बनी TIME की पहली ‘ किड ऑफ द ईयर ‘

TIME मैगज़ीन के इतिहास में पहली बार एक 15 वर्षीय भारतीय-अमेरिकी अपने “आश्चर्यजनक कार्य” के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *