Breaking News

Bodhisattva Vihar : महापौर ने महात्मा बुद्ध को पुष्पांजलि अर्पित की

लखनऊ। महात्मा बुद्ध जयंती के पावन अवसर पर गौतम बुद्ध मार्ग स्थित भारत के सबसे प्राचीनतम बौद्ध विहारों में से एक Bodhisattva Vihar बोधिसत्व विहार पर पहुंचकर महात्मा बुद्ध को महापौर संयुक्ता भाटिया ने मोमदीप प्रज्वलित कर उनको नमन किया एवं पुष्पांजलि अर्पित की।

Bodhisattva Vihar : महात्मा बुद्ध जयंती के अवसर पर बौद्ध धर्मांक़ुर सभा

महात्मा बुद्ध जयंती के अवसर पर बुद्ध धर्मांक़ुर सभा द्वारा आयोजित बुद्ध जन्म उत्सव कार्यक्रम में संस्था के अध्यक्ष एवं बौद्ध भिक्षु विश्वजीत ने महापौर को बुद्ध की मूर्ति के साथ बुद्ध ज्ञान उपदेश प्रदान किया ।

इस अवसर पर उपस्थित बौद्ध धर्मावलंबियों को संबोधित करते हुए महापौर ने कहा –

‘महात्मा बुद्ध ने कहा था कि जीवन में हजारों लड़ाइयां जीतने से अच्छा है कि तुम स्वयं पर विजय प्राप्त कर लो। फिर जीत हमेशा तुम्हारी होगी, इसे तुमसे कोई नहीं छीन सकता।’

Loading...

अतः आज के परिवेश में आवश्यकता है कि हम अपनी इच्छाओं को नियंत्रित कर संयमित एवं विचारशील बने और महात्मा बुद्ध के बताए हुए रास्ते पर चलें। उन्होंने कहा कि ‘बुद्ध पूर्णिमा को महात्मा बुद्ध का जन्मदिवस मनाया जाता है, भगवान बुद्ध विष्णु के 9वें अवतार थे। उन्होंने मोक्ष प्राप्ति के लिए संसार की सुख सुविधाओं का त्याग कर सभी को एक नई दिशा की ओर अग्रसित किया है, आज बौद्ध धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या विश्व मे 50 करोड़ से अधिक है, बौद्ध धर्म त्याग की प्रतिमूर्ति है।

महापौर ने आगे कहा कि ‘गृह त्याग के पश्चात सिद्धार्थ सात वर्षों तक वन में भटकते रहे, यहां इन्होंने अपनी कठोर तपस्या के बल पर आज ही के दिन वर्षों बाद गया में बोधि वृक्ष के नीचे बुद्धत्व ज्ञान की प्राप्ति की।

हम सभी प्रदेशवासियों को इस बात का गर्व होना चाहिए कि भगवान बुद्ध को उत्तर प्रदेश स्थित सारनाथ में ज्ञान प्राप्त हुआ और उत्तर प्रदेश में ही कुशीनगर में उनका निर्वाण हुआ : संयुक्ता भाटिया

बौद्ध विहार को पर्यटन स्थल बनाने की मांग

इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष ने लखनऊ स्थित बौद्ध विहार को पर्यटन स्थल बनाने की मांग की जिस पर महापौर ने भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी द्वारा किए जा रहे हैं पर्यटक स्थलों का विकास, जिसमें सारनाथ और अन्य बौद्ध विहार थे उनका उदाहरण देते हुए कहा कि हमारी सरकार इस विषय पर काफी गंभीर है, और मैं स्वयं पर्यटन विभाग को पत्र भेजूंगी कि वह बौद्ध विहार को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए सकारात्मक क़दम उठाये।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

डैमेज कंट्रोल और नागपुर अधिवेशन की रणनीति पर मंथन

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर हो सकता है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) चीफ शरद ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *