सफलता का शार्टकट नहीं है, बस परिश्रम ही एक मात्र विकल्प है : डा. नवनीत सहगल

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल (CMS) ने आज एक भव्य समारोह में अपने उन मेधावी छात्रों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया, जिन्होंने आई.एस.सी. (कक्षा-12) बोर्ड परीक्षा की नेशनल मेरिट लिस्ट के प्रथम, द्वितीय व तृतीय तीनों स्थान पर कब्जा जमाकर लखनऊ का गौरव बढ़ाया है।

सफलता का शार्टकट नहीं है, बस परिश्रम ही एक मात्र विकल्प है : डा. नवनीत सहगल

इस अवसर पर CMS प्रबन्धन ने घोषणा की है कि आई.सी.एस.ई (कक्षा-10) एवं आई.एस.सी. (कक्षा-12) की बोर्ड परीक्षा में 99 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित करने वाले विद्यालय के 59 छात्रों को 64 लाख रूपये के नगद पुरस्कार से नवाजा जायेगा, जिनमें प्रथम नेशनल रैंक अर्जित करने वाले 5 छात्रों को 2-2 लाख रूपये एवं शेष 54 छात्रों को एक-एक लाख रूपये के नगद पुरस्कार से नवाजा जायेगा।

समारोह के मुख्य अतिथि डा. नवनीत सहगल, आई.ए.एस., एडीशनल चीफ सेक्रेटरी, सूचना एवं जन-संपर्क विभाग, उ.प्र., ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का उद्घाटन किया। इस अवसर पर डा. सहगल ने कहा कि CMS छात्रों की यह उपलब्धि लखनऊ के लिए गौरव की बात है, जिससे अन्य छात्रों को भी प्रेरणा मिलेगी। आगे बोलते हुए डा. सहगल ने कहा कि सफलता का शार्टकट नहीं है, बस परिश्रम ही एक मात्र विकल्प है। अतः छात्रों को आज से व अभी से अपनी तैयारी में जुट जाना चाहिए।

इस अवसर पर CMS संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने बताया कि इस वर्ष आई.एस.सी. बोर्ड परीक्षा में कुल 3109 छात्र परीक्षा में बैठे, जिसमें से 2023 छात्रों ने 90 प्रतिशत से लेकर 99.75 प्रतिशत तक अंक अर्जित किये हैं। आई.एस.सी. में सीएमएस के 24 छात्रों ने 99 प्रतिशत अंक अर्जित किये है। इसी प्रकार, आई.सी.एस.ई. परीक्षा में सी.एम.एस. के 35 छात्रों ने 99 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित किये हैं।

डा. गाँधी ने बताया कि आई.सी.एस.ई. (कक्षा-10) में सी.एम.एस. के 2314 छात्रों ने 90 प्रतिशत से लेकर 99.80 प्रतिशत तक अंक अर्जित किए हैं।आज प्रातः सिटी मोन्टेसरी स्कूल के आई.एस.सी. (कक्षा-12) के सभी 2023 टॉपर छात्रों ने आई.एस.सी. बोर्ड परीक्षा में अपनी रिकार्ड तोड़ सफलता का ‘विजय जुलूस’ निकालकर अभूतपूर्व सफलता की नई इबारत लिखी।

About reporter

Check Also

हर घर तिरेंगे के प्रचार के लिए लगे पोस्टरों से मुख्यमंत्री का फोटो काटा गया,एफआईआर दर्ज

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिरोजाबाद में असामाजिक तत्वों की शहर की फिजां ...