Breaking News

टिकटॉक और हेलो ऐप ने की भारत में कारोबार को बंद करने की घोषणा, जाएगी हजारों नौकरियां

टिकटॉक और हेलो ऐप के मालिक चीनी सोशल मीडिया फर्म बाइटडांस ने देश में अपनी सेवाओं पर जारी प्रतिबंधों के बाद अपने भारत के कारोबार को बंद करने की घोषणा की है। कंपनी ने कहा कि शुरू में आधे कर्मचारियों की नौकरियां जाएंगी, फिर धीरे-धीरे बाकी नौकरियां जाएंगी।

टिकटॉक के वैश्विक अंतरिम प्रमुख वेनेसा पाप्पस और वैश्विक व्यापार समाधान के उपाध्यक्ष ब्लेक चंडली ने कर्मचारियों को एक संयुक्त ईमेल में कंपनी के निर्णय के बारे में बताया है कि कंपनी टीम के आकार को कम कर रहा है और इस निर्णय से भारत के सभी कर्मचारी प्रभावित होंगे। अधिकारियों ने कंपनी की भारत वापसी पर अनिश्चितता व्यक्त की है।

ईमेल में कहा गया है, “जब हम यह नहीं जानते कि हम भारत में कब वापसी करेंगे, लेकिन हम आने वाले समय में ऐसा करने की इच्छा रखते हैं।” बाइटडांस के एक सूत्र के अनुसार, कंपनी ने बुधवार को एक टाउन हॉल का आयोजन किया, जहां उसने भारत के कारोबार को बंद करने के बारे में बताया।

Loading...

कंपनी ने कहा, “यह निराशाजनक है कि आगामी सात महीनों में, हमारे प्रयासों के बावजूद हमें इस बात पर स्पष्ट दिशा नहीं दी गई है कि हमारे ऐप को कैसे और कब पुन: स्थापित किया जा सकता है। भारत में हम अपने कर्मचारियों की संख्‍या को आधा करने जा रहे हैं। हमारे पास अपने कर्मचारियों के आकार को कम करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।”

प्रवक्ता ने कहा, “हम टिकटॉक को फिर से शुरू करने और भारत में करोड़ों उपयोगकर्ताओं, कलाकारों, कहानीकारों और शिक्षकों का समर्थन करने का अवसर प्राप्त करने के लिए तत्पर हैं।” सरकार ने जून में 59 ऐप के साथ टिकटॉक और हेलो को ब्लॉक कर दिया था और कंपनियों को बताया है कि उन्हें ब्लॉक करने का आदेश जारी रहेगा।

बाइटडांस के अधिकारियों ने कहा कि कंपनी के स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के बावजूद इसके ऐप पर प्रतिबंध लगाने का फैसला आया। कंपनी ने कहा, “हमने भारत सरकार की चिंताओं को दूर करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। हमें खेद है कि यह भारत सरकार की ओर से स्पष्ट दिशा-निर्देश की कमी का परिणाम था कि कब और कैसे हमारे ऐप को फिर से बहाल किया जा सकता है।”

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

FASTag के जरिए रिकॉर्ड टोल कलेक्शन, रोजाना जमा हो रहे 104 करोड़ रुपए

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फास्टैग के जरिए टोल कलेक्शन रिकॉर्ड तोड़ स्तर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *