Breaking News

लखनऊ में होती है राम मंदिर और विश्व हिंदू परिषद के नाम पर हफ्ता-वसूली, गुड़म्बा इलाके में पीड़ित व्यापारी ने दर्ज़ करवायी एफआईआर

  •  पीड़ित व्यापारी ने मुख्यमंत्री को शिकायत पत्र भेजने के बाद गुडम्बा थाने में दर्ज कराई आरोपियों के खिलाफ एफआईआर

  •  व्यापारी का आरोप है हफ्ता वसूली करने वाले गिरोह के लोग खुद को बताते हैं किसान मजदूर यूनियन और विश्व हिन्दू परिषद जैसे प्रतिष्ठित संस्था का पदाधिकारी

  •  वसूली करने वाले गिरोह ने भगवान राम मंदिर के नाम पर फर्जी रसीदें भी छाप रखीं हैं, जिसके नाम पर करते हैं चंदा वसूली, चंदा न देने पर मारने की देते हैं धमकी

  • Published by- @MrAnshulGaurav
  • Thursday, June 16, 2022

लखनऊ। खुद को किसान मजदूर यूनियन और विश्व हिन्दू परिषद जैसे प्रतिष्ठित हिन्दू संगठन का पदाधिकारी बताने वाले कुछ लोग व्यापारियों से हफ्ता वसूली और रंगदारी में लगे हैं। व्यापारी इनकी वजह से व्यापार नहीं कर पा रहे हैं। चंदा या हफ्ता न देने पर ये लोग व्यापारियों को जान से मारने की धमकी देते हैं।

इस तरह की शिकायत बक्शी का तालाब लखनऊ में रहने वाले एक व्यापारी ने गुडम्बा थाने में दर्ज कराई है। व्यापारी का आरोप है कि इस गिरोह ने भगवान राम मंदिर के नाम पर फर्जी चंदे की रसीदें भी बना रखी हैं। पीड़ित व्यापारी ने मुख्यमंत्री से भी रंगदारी मांगने वाले गिरोह की शिकायत पत्र भेजकर की है। उन्होंने आरोपियों पर कार्रवाई कर व्यापारियों को राहत दिलाने की मांग भी की है।

बक्शी का तालाब में रियल स्टेट का व्यापार करने वाले अनिल जायसवाल ने हफ्ता और रंगदारी मांगने वाले सुभाष निषाद, राम प्रकाश सिंह, श्रीकांत प्रकाश उर्फ एसपी सिद्धार्थ व उनके गिरोह के अन्य लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की है। साथ ही उन्होंने गुडम्बा थाने में अभियुक्तों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

अनिल जायसावाल का कहना है कि वे रुद्राक्ष डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड के बैनर से ग्राम बसहा व बरखुरदरापुर तहसील बक्शी का तालाब में छोटा सा रियल स्टेट का व्यापार कर रहे हैं। उनका आरोप है कि पिछले कई समय से कुछ लोग खुद को किसान मजदूर संगठन का पदाधिकारी बताते हैं तथाकथित लोकल अपराधिकयों और फर्जी पत्रकारों की गलत खबर प्रकाशित करके उनको ब्लैकमेल कर रहे हैं। इन सबने मिलकर एक गिरोह बना रखा है। सभी मिलकर हफ्ता वसूली करते हैं। पैसा न देने पर हर तरह की धमकी भी देते हैं। धरना-प्रदर्शन तो कभी जान से मारने की धमकी भी दी जाती है।

गिरोह का सरगना ग्राम चन्दनापुर पोस्ट महोना बक्शी का तालाब के रहने वाले राम प्रकाश सिंह खुद को राष्ट्रीय किसान मजदूर यूनियन का राष्ट्रीय महासचिव व विश्व हिन्दू परिषद जैसे प्रतिष्ठित हिन्दू संगठन का जिला अध्यक्ष बताता है। संगठन के लैटर पैड का उपयोग व्यापारियों को डरा धमकाकर धन उगाही के लिए करता है। अनिल जासयाल ने बताया कि इतना ही नहीं भगवान राम मंदिर के नाम पर फर्जी रसीदें भी इन लियोगों ने छाप रखीं हैं जिसके नाम पर चंदा वसूली भी करता है।

चंदा या हफ्ता न देने पर जान से मारने की धमकी देता है। आरोपी बक्शी का तालाब निवासी श्रीकांत प्रकाश और खुद को भारतीय किसान मजदूर यूनियन का मानवतावादी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बताता है। चंदा न देने पर ये आरोपी व्यापारियों का मिलकर उत्पीड़न करते हैं। इनकी वजह से व्यापारियों का व्यापार करना मुश्किल हो गया है।

About reporter

Check Also

शतरंज ओलम्पियाड मशाल रिले के लखनऊ आगमन पर विधान भवन के सामने समारोह का आयोजन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मुख्यमंत्री ने 44वें शतरंज ओलम्पियाड मशाल रिले-2022 का ...