Breaking News

नगालैंड और म्‍यांमार में भूकंप, उत्तराखंड के 6 जिलों में बारिश का येलो अलर्ट, भूस्खलन के कारण यमुनोत्री हाईवे बंद

उत्तराखंड में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, देहरादून, रुद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ और बागेश्वर में सोमवार को भारी बारिश हो सकती है। इन जिलों में अगले 12 घंटे के भीतर भारी बारिश के साथ कुछ इलाकों में बादल फटने जैसी घटना हो सकती है। मौसम विभाग के अलर्ट के बाद राज्य सरकार ने सभी जिला प्रशासन को मुस्तैद रहने का आदेश जारी किया है। वहीं उत्तराखंड में उत्तराखंड में हनुमान छत के पास भूस्खलन के कारण यमुनोत्री राजमार्ग बंद कर दिया गया है।

उत्तराखंड में आपदा से अब तक 59 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 55 घायल और 12 लापता हैं। वहीं आपदा से उत्तरकाशी जिले की तहसील मोरी के कोटीगाड़ क्षेत्र का करीब 70 वर्ग किमी क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आपदा से उत्तरकाशी जिले के साथ ही पूरे प्रदेश में हुए नुकसान का ब्योरा बताया है। उन्होंने बताया कि राज्य में आपदा से 62 बड़े और 263 छोटे पशुओं की हानि हुई है। इसके अतिरिक्त 134 आवासीय भवन आंशिक और 115 पूरी तरह नष्ट हुए हैं. उत्तरकाशी जिले की मोरी तहसील में आपदा से 17 भवन पूर्ण क्षतिग्रस्त, 115 आंशिक क्षतिग्रस्त, दो मोटरपुल, दो पैदल पुल, 14 किमी बिजली लाइन, 12 किमी 11 केवी लाइन, आठ ट्रांसफार्मर खराब हो चुके हैं।

उधर बाढ़ प्रभावित इलाकों में शुक्रवार को राहत सामग्री के साथ उड़ान पर निकले एक निजी हेलिकॉप्टर के पायलट को इमरजेंसी लैंडिंग पर बाध्य होना पड़ा। इस इमरजेंसी लैंडिंग में पायलट को मामूली चोटें आईं। उत्तरकाशी जिले के तिकोची नदी के पास उतरने के बाद हेलिकॉप्टर क्षतिग्रस्त हो गया। उत्तराखंड पुलिस के अनुसार, हेलिकॉप्टर एक निजी कंपनी का था, जिसे राज्य सरकार ने मोरी-अराकोट इलाके में राहत सामग्री बांटने के लिए किराए पर लिया था।

देश के उत्‍तर-पूर्वी राज्‍य नगालैंड में सोमवार सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इसके अलावा म्‍यामांर में भी सुबह भूकंप आया है। हालांकि अभी दोनों ही जगह भूकंप से हुए नुकसान की कोई खबर नहीं है। यूरोपियन मेडिटेरेनियन सीस्‍मोलॉजिकल सेंटर (ईएमएससी) के अनुसार नगालैंड में सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्‍टर स्‍केल पर इसकी तीव्रता 4.7 मापी गई। यह भूकंप नगालैंड में तूसेंग से 132 किमी की दूरी पर रिकॉर्ड किया गया. हालांकि इसमें किसी भी जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

मध्य प्रदेश में हो रही लगातार बारिश से राजघाट और माताटीला बांध में जलस्तर बढ़ गया है। रविवर सुबह माताटीला बांध के 20 गेट खोलकर शाम तक 3 लाख क्यूसेक पानी बेतवा नदी में छोड़ा गया है। शनिवार को विदिशा के सिरोंज इलाके में एक घर ढहने से एक शख्स की दबकर मौत हो गई थी। जबकि एक घायल हो गया। घायल को रस्सी और खाट का इस्तेमाल करके नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाके में भारी बारिश से बाढ़ के हालात हैं।

About Aditya Jaiswal

Check Also

आज का राशिफल; 23 फरवरी 2024

मेष राशि: आज का दिन आपके लिए लेनदेन से संबंधित मामलों में सावधानी बरतने के ...