Breaking News

रिहायशी इमारत पर हमले में 30 फलस्तीनियों की मौत, 24 घंटे में गई 266 की जान

इस्राइल के हमले में 30 फलस्तीनी नागरिकों की मौत की खबर है। फलस्तीनी मीडिया ने सोमवार को यह दावा किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस्राइल ने गाजा में एक रिहायशी इमारत को निशाना बनाया। जिस इमारत को निशाना बनाया गया, वह गाजा के जबालिया शरणार्थी कैंप के अल-शुहादा इलाके में स्थित थी। फलस्तीनी मीडिया के अनुसार, हमले के बाद इमारत पूरी तरह से तबाह हो गई और इमारत में मौजूद कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई।

बीते 24 घंटे में 266 लोगों की मौत का दावा
वहीं गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि बीते 24 घंटे में इस्राइल के हवाई हमले में 266 फलस्तीनी नागरिकों की मौत हुई है, इनमें 117 बच्चे भी शामिल हैं। बताया जा रहा है कि बीते दो हफ्ते में इस्राइल के हमले में गाजा पट्टी में 4600 लोगों की मौत हुई है। वहीं हमास के हमले में इस्राइल में 1400 लोगों की मौत हुई है। वहीं इस्राइली सेना ने कहा है कि उसने लेबनान में आतंकी संगठन हिज्बुल्ला के दो ठिकानों को निशाना बनाया है, जहां से इस्राइल पर रॉकेट हमले की तैयारी की जा रही थी। हिजबुल्ला ने भी माना है कि उसका एक लड़ाका मारा गया है।

बेंजामिन नेतन्याहू ने हिजबुल्ला को दी चेतावनी
इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने हिजबुल्ला को चेतावनी दी है कि अगर हिजबुल्ला ने लड़ाई में शामिल होने की कोशिश की तो दूसरा लेबनान युद्ध हो सकता है और यह गलती हिजबुल्ला की सबसे बड़ी गलती होगी। सीरियाई मीडिया ने दावा किया है कि इस्राइल की मिसाइलों ने दमिश्क और अलेप्पो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भी हमला किया है। जिसके चलते एयरपोर्ट का संचालन बाधित हो गया है और दो लोगों की मौत हुई है। इस्राइली सेना ने भी बयान जारी कर कहा है कि दक्षिण में रविवार को उसके टैंक से गलती से मिस्त्र के ठिकाने पर हमला हुआ है। मिस्त्र ने कहा है कि इस हमले में उसके कुछ सैनिक घायल हुए हैं।

About News Desk (P)

Check Also

‘वित्त मंत्री के भाषण में महाराष्ट्र एक बार भी नहीं आया, प्रदेश के साथ भेदभाव’; आदित्य ठाकरे का आरोप

मुंबई:  शिवसेना (उद्धव ठाकर गुट) के नेता आदित्य ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि बजट ...