Breaking News

शहीदों के सरताज साहिब श्री गुरू अरजन देव जी महाराज का 416वाँ पावन शहीदी दिवस 02 एवं 03 जून को

लखनऊ। श्री गुरू ग्रन्थ साहिब जी के सम्पादक, बाणी के बोहिथ, शहीदों के सरताज सिखों के पांचवें गुरू साहिब श्री गुरू अरजन देव जी महाराज का 416वाँ पावन शहीदी दिवस 02 एवं 03 जून को बड़ी श्रद्धा एवं सत्कार के साथ ऐतिहासिक गुरूद्वारा श्री गुरु नानक देव जी नाका हिण्डोला में मनाया जायेगा। नाका गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी एवं ऐतिहासिक गुरूद्वारा श्री गुरु नानक देव जी श्री गुरू सिंह सभा, नाका हिन्डोला, लखनऊ के अध्यक्ष सरदार राजेन्द्र सिंह बग्गा ने उपरोक्त जानकारी दी।

महामंत्री हरमिन्दर सिंह टीटू ने बताया कि 02 जून को सायं 6.30 से 10.00 बजे तक एवं 03 जून को प्रातःं 5.00 से 03.00 बजे तक तथा सायं 6.30 से 10.00 बजे तक दीवान सजेगा। प्रवक्ता सतपाल सिंह मीत ने बताया कि इस दिवस पर विशेष रुप से पधार रहे रागी जत्था भाई सुखजिन्दर सिंह हजूरी रागी श्री दरबार साहिब श्री अमृतसर, भाई भुपिन्दर सिंह जी कानपुर वाले शबद कीर्तन गायन कर श्रद्धालुओं को निहाल करेंगे। पंथ प्रसिद्ध प्रचारक ज्ञानी जसविन्दर सिंह श्री अमृतसर वाले श्री गुरू अरजन देव जी की जीवन एवं शहादत पर गुरमति विचार व्यक्त करेंगे।

हरविन्दरपाल सिंह नीटा ने बताया कि माता गुजरी सत्संग सभा की सदस्याओं, के0के0एन0एस0 एवं गुरमत संगीत अकैडमी के बच्चे भी इस कार्यक्रम में शबद कीर्तन गायन करेंगे। ज्ञानी सुखदेव सिंह कथा व्याख्यान करेंगे। इस अवसर पर एक विशाल गुरू के लंगर का भी आयोजन किया गया है। कई प्रमुख स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा गुरुद्वारा साहिब में छबीलें लगाएंगी, जिसमें कढ़ी चावल, ब्रेड छोले, कच्ची लस्सी, काले चनें तथा जल जीरा वितरित किया जायेगा।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर 

About Samar Saleel

Check Also

देश के हित में शिक्षा नीति

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें राज्यपाल आनंदीबेन पटेल नई शिक्षा नीति के प्रभावी ...