Breaking News

अखिलेश यादव को मिला ऑफर कन्नौज के बजाए कानपुर से लड़े चुनाव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव 2019 चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। लोकसभा का चुनाव वो कन्नौज की सीट से लड़ने का पहले ही ऐलान कर चुके हैं, लेकिन एक वर्ग है जो उन्हें कहीं और से चुनाव लड़ता देखना चाहता है। दरअसल कानपुर जिले के कई बड़े व्यापारी नेताओं ने राजधानी में सपा अधयक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। इस दौरान इन व्यापारियों ने अखिलेश यादव को योगी सरकार के आने से उनको हो रही परेशानियों के बारे में बताया। सपा अध्यक्ष ने उनका दुख समझा और 2019 चुनाव जीतने के बाद उनकी समस्याओं का निराकरण करने का आश्वासन भी दिया।

अखिलेश को कानपुर से चुनाव

अखिलेश यादव अपनी नई रणनीति के तहत व्यापारियों, समाजसेवियों वर्ग के अलावा अन्य संगठनों के लोगों से मुलाकात कर रहे हैं और उन्हें आमंत्रण पत्र देकर बुला रहे हैं। इसी कड़ी में सपा प्रमुख ने कानपुर से आये व्यापारी नेताओं के साथ भी बैठक की। उनकी सारी समस्याओं को सुना और सरकार बनने के बाद निराकरण का आश्वासन दिया। इसी दौरान इन व्यापारियों ने अखिलेश को कानपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का न्योता दिया। इस पर अखिलेश यादव ने उनसे कहा कि हमारे पास कई विकल्प है और जहां की जनता हमें बुलाएगी, वहीं से हम चुनाव लड़ सकते हैं।

Loading...

भाजपा सरकार पूरी तरह नाकाम

अखिलेश यादव से मुलाकात करने के बाद व्यापारी नेताओं ने मीडिया को बताया कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने यूपी में बढ़ रहे अपराध पर चिंता जताई है और कहा कि सीएम योगी के नेत्रत्व वाली भाजपा सरकार पूरी तरह नाकाम रही है। योगी सरकार ने जितने भी वादे किए, उनमें से एक भी अभी तक पूरे नहीं हुए हैं। व्यापारी नेता अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि पूर्व सीएम ने हमें आश्वासन दिया है कि दिल्ली की सत्ता मिलने के बाद वह कानपुर को फिर से खड़ा करेंगे। उद्योमियों को बुला कर इंड्रस्ट्री लगवाई जाएंगी। बंद मिलों को फिर से शुरू किया जाएगा। व्यापारी वर्ग लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी का समर्थन करेगा और कानपुर से अखिलेश यादव को जिता कर संसद में भेजेगा।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

वरिष्ठ पत्रकार के निधन पर रालोद अध्यक्ष ने जताया दुख

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. मसूद अहमद ने जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार तथा कई ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *