Breaking News

केंद्रीय लोक शिकायत संस्थान ने आजादी के 75 वें वर्ष पर 75 लोगों को दिया राष्ट्र गौरव सम्मान

लखनऊ: केंद्रीय लोक शिकायत एवं जांच संस्थान के तत्वावधान में आज गोमती नगर स्थित उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी सभागार हाल में लोक शिकायत एवं निराकरण संगोष्ठी के दौरान आजादी के 75 वर्ष पर देश के विभिन्न स्थानों से आए हुए समाज में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 75 लोगों को राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया।

केंद्रीय लोक शिकायत संस्थान ने आजादी के 75 वें वर्ष पर 75 लोगों को दिया राष्ट्र गौरव सम्मान

उक्त अवसर पर संस्थान के नेशनल चेयरमैन गोपाल राय ने कहा की केंद्रीय लोक शिकायत एवं जांच संस्थान द्वारा गरीब, असहाय एवम पीड़ितों की समस्या का समाधान किया जा रहा है। इस प्रयास में केंद्रीय लोक शिकायत एवं जांच संस्थान को प्रशासन का भी भरपूर सहयोग मिला है। यह मंच न्याय का मंच है, लोग इससे जुड़ कर समस्याओं से निराकरण के साथ ही साथ संस्था द्वारा उत्कृष्ठ कार्य करने पर अपना पूर्ण भरोसा जाता रहे हैं।

संस्था ने जिस तरह कम समय में तीव्र गति से कार्य कर लोगों के उम्मीदों में सूरज के किरण की भांति कार्य किया है। श्री राय ने कहा कि संस्था का मूल मकसद भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ना है। गोपाल राय ने कहा कि संस्थान सम्पूर्ण भारत के सभी प्रदेशों में स्टेट एवं डिस्ट्रिक्ट चेयरमैन का गठन कर एक माह के अंदर समाज के कमजोर,आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के व्यक्तियों जो समस्याओं से संबंधित विभागों एवं अदालतों तक नहीं पहुंच पाते हैं और अपना हक हुकूक हासिल न होने से भाग्य को दोषी मानकर समस्या से पीड़ित रहते हैं उनको न्याय दिलाने के लिए यह संस्थान निस्वार्थ भाव से कार्य करेगी। इन सुविधाओं को प्रभावी बनाने के लिए संस्थान उचित लोगों का चयन करेगी जो स्वेच्छा से समाज में आमूल – चूल परिवर्तन के प्रणेता के रूप में कार्य करने को तैयार हैं।

विधिक कार्यवाही हो या मानवाधिकार मूल्य हो,सामाजिक समरसता के लिए संस्थान की तरफ से निशुल्क एडवोकेट नियुक्त किए जाएंगे जिनका खर्च संस्थान एवं पदाधिकारी उठाएंगे। संस्थान का प्रमुख उद्देश्य है कि भारत को समृद्ध व मजबूत बनाने की अवधारणा, भ्रष्टाचार मुक्त उन्नत समाज की परिकल्पना, समाज में आर्थिक रूप से कमजोर दलित पिछड़े अल्पसंख्यक महिला एवं पुरुष ,जो पीड़ित हैं उनके अधिकारों को दिलाना।

समाज को नई दिशा देने के लिए युवाओं को उचित मार्गदर्शन तथा रोजगार उन्मुख कार्यशाला का आयोजन कर प्रेरित करना। रोजगार परक ट्रेनिंग देकर स्टार्टअप जैसी योजनाओं के माध्यम से युवाओं को आत्म निर्भर बनाने का कार्य संस्था करेगी। वर्तमान समय में आम आदमी को शिक्षा और चिकित्सा स्वास्थ्य की मूलभूत आवश्यकता है। उसकी उपयोगिता उपलब्ध कराने हेतु सुनिश्चित करना, समान नागरिक संहिता लागू करवाने का प्रयास प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। एक भारत, श्रेष्ठ भारत, सब का साथ, सबका विकास की सोच रखने वाले प्रधानमंत्री की नीतियों को जन तक पहुंचाने के लिए संस्थान वचनबद्ध है।

भारत में आजादी के बाद भी किसान वर्ग सबसे ज्यादा उपेक्षित रहा है,उसके कल्याण के लिए केंद्रीय सरकार द्वारा प्रदत्त सुविधाओं को सुनिश्चित करने के अलावा केवल कृषि पर निर्भर रहने वाले किसानों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा, स्वास्थ्य के लिए आयुष्मान कार्ड अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने का मजबूत प्रयास किया जाएगा। हर खांटी किसान परिवार के एक सदस्य को नौकरी तथा मेडिकल,इंजीनियरिंग इत्यादि कालेजों में पढ़ाई मुफ्त कराने की कोशिश संस्थान करेगी।

स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ पर शुरू हुआ ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ स्वावलंबन की दिशा में उठाया गया भारत सरकार का एक महत्वपूर्ण कदम है, इसी दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय लोक शिकायत एवं जांच संस्थान ने देश के स्वालंबन की ओर प्रण लेते हुए समाज में अतुलनीय योगदान देने वाले 75 लोगों को राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित किया है। जिसमे प्रमुख रूप से इस सम्मान से सम्मानित हुए।

About reporter

Check Also

40 लाख कीमत के रिफायन्ड को फिरोजाबाद में बेचने की कोशिश में चार गिरफ्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिरोजाबाद। गुजरात के सूरत से लुधियाना ले जा ...