Breaking News

Jinping की नीतियों पर सवाल उठाने वाले Jack Ma पर China की कार्रवाई, Alibaba पर ठोका 2.78 अरब डॉलर का जुर्माना

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग अरबपति जैक मा के पीछे हाथ धोकर पड़ गए हैं। जैक की कंपनियों को चुन-चुनकर निशाना बनाया जा रहा है। अब शी जिनपिंग द्वारा ‘अलीबाबा’ के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है। सरकार ने एकाधिकार-विरोधी नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए अलीबाबा ग्रुप पर 2.78 अरब डॉलर का जुर्माना लगाया है। इसे देश में किसी कंपनी के खिलाफ हुई अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई माना जा रहा है।

2.78 अरब डॉलर का जुर्माना

बता दें कि पिछले साल करीब 6 महीनों तक जैक मा अज्ञातवास में रहे और माना जा रहा था कि चीन की सरकार ने उन्हें नजरबंद कर रखा है और अब चीन के प्रमुख उद्योगपति जैक मा के ऊपर चीन की सरकार ने 2.78 अरब डॉलर का जुर्माना ठोक दिया है।

माना जा रहा है कि चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी लगातार अलीबाबा ग्रुप पर शिकंजा कस रही है और कुछ रिपोर्ट्स में ये भी कहा गया है कि चीन के राष्ट्रपति जैक मा को बिल्कुल पसंद नहीं कर रहे हैं और उन्हीं के इशारे पर अलीबाबा को जड़ से खत्म करने की कोशिश की जा रही है। अलीबाबा ग्रुप चीन की सबसे बड़ी इ-कॉमर्स कंपनी है। इसके अलावा भी जैक मा की कंपनी अलीबाबा के दर्जनों प्रोडक्ट्स हैं। चीन के स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन फॉर मार्केट रेगुलेशन ने शनिवार को कहा है कि अलीबाबा पर ‘अपने एकाधिकार का गलत इस्तेमाल’ करने की वजह से जुर्माना लगाया जा रहा है और ऑनलाइन रिटेलिंग में उनके व्यापार को कम किया जा रहा है।

दिसंबर से चल रही थी जांच

चीन की शीर्ष कंपनियों में से एक टेक-दिग्गज अलीबाबा की मुश्किलें बढ़नी पिछले साल दिसंबर से ही शुरू हो गई थी। जब चीन की सरकार अलीबाबा ग्रुप पर मोनोपोली यानी एकाधिकार के गलत इस्तेमाल को लेकर जांच के आदेश दे दिए थे। राज्य प्रशासन बाजार विनियमन यानि एसएएमआर के मुताबिक अलीबाबा के खिलाफ ‘दो में से एक चुनने’ की प्रैक्टिस में जांच शुरू की गई थी। यह जैक-मा की ई-कॉमर्स कंपनी और फिनटेक एंपायर के लिए बहुत बड़ा झटका माना गया था। चीन की आधिकारिक न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने पिछले साल दिसंबर मे बताया था कि रेगुलेटर ने अलीबाबा ग्रुप पर एक विशेष डीलिंग एग्रीमेंट के लिए एकाधिकार का गलत इस्तेमाल करने का आरोपी पाया है। रेगुलेटर ने बताया था कि इस मामले में आने वाले दिनों में जैक-मा की कपनी एंट ग्रुप को भी नोटिस भेजा जाएगा। इससे पहले पिछले महीने ही चीन सरकार ने नाटकीय ढंग से एंट ग्रुप के 37 अरब डॉलर के IPO को खारिज कर दिया था।

बता दें कि अलीबाबा चीन के मशहूर कारोबारी और अपने बोलने के लिए प्रसिद्ध जैक मा की है। वह कभी एक स्कूल में पढ़ाया करते थे और अब वह अरबपति कारोबारी हैं। अलीबाबा विश्व की बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियों में से एक है जिसके करोड़ों की संख्या में यूजर्स हैं। उनकी कंपनी का टर्नओवर कई सौ मिलियन डॉलर का है। इसकी तीन मेन वेबसाइट टाउबाउ, टीमॉल और अलीबाबा डॉट कॉम है।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

राहुल गांधी के करीबी कांग्रेस सांसद की कोरोना से माैत, कुछ दिन पहले रिपोर्ट आई थी नेगेटिव

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें महाराष्ट्र से बड़ी खबर सामने आ रही है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *