Breaking News

भ्रांतियों को करें दूर बढ़ायें टीकाकरण की रफ्तार- शहर क़ाज़ी

• स्वस्थ जीवन जीने के लिए बच्चों का कराए टीकाकरण

• नियमित टीकाकरण पर सामुदायिक सहयोगियों एवं प्रभावशाली व्यक्तियों का अभिमुखीकरण

कानपुर नगर। स्वास्थ्य विभाग व यूनिसेफ के सहयोग से हुमायूबाग़ में गुरुवार को जनपद स्तरीय अभिमुखीकरण कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस कार्यक्रम में सामुदायिक सहयोगियों एवं प्रभावशाली व्यक्तियों को नियमित टीकाकरण का महत्व समझाया गया। साथ ही नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत टीकाकरण से वंचित वैब (वैक्सीन अवॉइडेंस बिहैवियर) झिझक/उदासीन परिवारों को मोबिलाइज कर टीकाकरण कराने में सहयोग करने की अपील की गई।

इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में एसडीएम सदर, अभिनव गोपाल मौजूद रहे। उन्होंने टीकाकरण से वंचित बच्चों के परिवारों को समझाकर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में सहयोग देने वालों को फूलों की माला पहनाकर सम्मानित किया।

शहर क़ाज़ी मौलाना मुफ़्ती साक़िब ने कहा कि टीकाकरण को लेकर मुस्लिम समुदाय में कई भ्रांतियां फैली हुई है। लेकिन कोरोना, डिप्थीरिया, डेंगू जैसे संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण ही एक मात्र विकल्प बताया जा रहा है। इसलिए पांच साल तक बच्चों को नियमिति टीकाकरण बेहद जरूरी है। मौलाना ने कहा कि गांवों में लोगों को समझाना काफी मुश्किल काम होता है। धर्मगुरुओं और समाज के संभ्रांत लोगों को इसमें आगे आना चाहिए। स्वस्थ्य समाज बनाना सबकी जिम्मेदारी है।

यूनिसेफ के डीएमसी फ़ुजैल अहमद सिद्दीकी ने बताया कि बच्चे के जन्म से लेकर पांच साल तक यदि सात टीके लग जाए, तो बच्चे की बुनियाद मजबूत हो जाती है, और उसे बारह जानलेवा बीमारियों से बचाया जा सकता है। कहा कि पहले भी समाज के सहयोग से चेचक और पोलियो पर विजय प्राप्त की गयी है, उम्मीद है कि नियमित टीकाकरण में भी सभी लोग आगे आकर अपने बच्चों का टीकाकरण कराएंगे।

चिकित्सा अधीक्षक डॉ असफिया हाश्मी ने भ्रांतियों को दूर कर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में सहयोग करने के लिए यूनिसेफ तथा स्वास्थ्य विभाग की टीम की प्रशंसा की। साथ ही समुदाय के उन प्रभावशाली लोगों का आभार जताया जिन्होंने किसी गलत धारणा के वशीभूत होकर नियमित टीकाकरण का विरोध करने वालों को टीकाकरण के पक्ष में तैयार करवाने में भूमिका निभाई है।

उन्होंने कहा कि सभी के प्रयास से पोलियो का उन्मूलन हो गया है। ऐसे ही बारहजानलेवा बीमारियों के प्रति टीका लगाकर इनको भी इस देश से अलविदा कह दिया जाए।

इस मौके पर चिकित्सा अधिकारी डॉ आसिफ़, डॉ नितिन सहित बीएमसी हाफ़िज खान और वीरेंद्र कुमार व अन्य लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

15 शहरों की 14,000 से अधिक महिलाओं का यौन शोषण, 15 गिरफ्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें साइबराबाद पुलिस ने हाल के समय में सबसे ...