Breaking News

गुजरात में करोना XBB.1.5 वेरिएंट की इंट्री, लक्षण जानकर रहें सावधान

गुजरात में नए वेरिएंट की इंट्री हो गई है। राजस्थान और कर्नाटक में भी इसके मामले सामने आए हैं। XBB.15 पर वैक्सीन का भी असर नहीं होता। इससे संक्रमित होने की संभावशा भी अधिक होती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस वेरिएंट का संक्रमण 104 गुना तेजी से होता है। इसका सब से पहले अमेरिका में केस मिला था। कोरोना के दो वेरिएंट से मिलकर XBB.15 वेरिएंट बना है। इम्यून सिस्टम होने के बावजूद XBB.1.5 वेरिएंट संक्रमण फैलाता है। इम्यून सिस्टम कम है तो संभल कर रहना है।

बच्चे को बच्चा ही रहने दें, बच्चा जितना मुक्त और हल्का रहेगा, उतना ही खिलेगा

CDC की ओर घोषित किए गए आंकड़ों के अनुसार संयुक्त राज्य अमेरिका में इस समय 40 प्रतिशत से अधिक मामलों में XBB.1.5 के मामले सामने आए हैं। अनेक पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट्स चीन में बढ़ रहे कोरोना को लेकर चिंतित है। पर अनेक एक्सपर्ट्स केवल सुपर वेरिएंट XBB.1.5 के दोगुना होने को लेकर चिंता कर रहे हैं। गुजरात में इस वेरिएंट की इंट्री होने का पता चलते ही एलर्ट कर दिया गया है। इस समय अगर आप भी इस वेरिएंट का शिकार होते हैं तो निम्न बातों का ध्यान रखें।

वेरिएंट के लक्षण

इस नए वेरिएंट के मुख्य लक्षणों में नाक बहना, गले में खरांश, बुखार, सिर दर्द, छींक आना, सर्दी, खांसी और कर्कश आवाज शामिल है।

खतरनाक है XBB.1.5 वेरिएंट

  • अमेरीका के 10 राज्यों में से 7 में XBB.1.5 के सब से अधिक मामले आए हैं। यह एमिक्रोन का XBB.1.5 वेरिएंट है और BQ1 वेरिएंट से 120 प्रतिशत अधिक तेजी से फैलता है।
  • जानेमाने बायोलाॅजिस्ट के आधार पर XBB.1.5 वेरिएंट एक एडिशनल म्यूटेशन है, जो बाॅडी सेल को अच्छी तरह जोड़ता है।
  • XBB.1.5 वेरिएंट BQ1 की तुलना में 104 प्रतिशत अधिक फास्ट है, पर डेटा मिलने के बाद 120 प्रतिशत खतरनाक साबित हुआ है।

  • एक अन्य रिसर्च में सामने आया है कि XBB.1.5 वेरिएंट केवल एंटीबाॅडी को प्रभावित करता है ऐसा नहीं है। यह उसे कमजोर भी बनाता है।
  • यह आसानी से लोगों के शरीर में प्रवेश कर जाता है। पुराने XBB या BQ की तुलना में यह अधिक तेजी से फैलता है।
  • XBB.1.5 वेरिएंट सिंगापुर सहित एशिया के अनेक भागों में बढ़ रहा है। सप्ताह के 4.2 प्रतिशत की तुलना में इस सप्ताह में यह अमेरिका में 3.6 प्रतिशत था।
  • XBB.1.5 को सब से पहले JP Weiland ने कुछ सप्ताह पहले अनुभव किया था। प्राप्त जानकरी के अनुसार कोरोना वायरस के ओरिजनल वेरिएंट के साथ बीए4 और बीए5 के सब वेरिएंट को टारगेट करने वाले कोविड बूस्टर डोज XBB से सुरक्षा भारत में XBB.1.5 की बात करें तो देश के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। क्योंकि परिवार के सब वेरिएंट XBB से संक्रमित हो कर भी लोग स्वस्थ हो चुके हैं।
  • एक रिपोर्ट के अनुसार XBB सब वेरिएंट में होने वाला म्यूटेशन कोरोना वैक्सीन के असर को कम करता है। लोगों को संक्रमित करने के अलावा यह अन्य गंभीर बीमारियों के खतरे को बढ़ा सकता है।
              स्नेहा सिंह

About Samar Saleel

Check Also

आपस में टकराए सुखोई-30 और मिराज, हादसे में घायल दोनों पायलट को सुरक्षित बाहर निकाला गया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मध्य प्रदेश के मुरैना में सुखोई-30 और मिराज ...