Breaking News

सड़कों की मरम्मत में लापरवाह एजेंसियों पर करोड़ों का जुर्माना

• पेयजल लाइन बिछा रही कम्पनियों को महंगी पड़ी सड़क मरम्मत में कोताही

• सड़क मरम्मत में लापरवाह एजेंसियों पर चला नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के प्रमुख सचिव की कार्रवाई का हंटर

• जल जीवन मिशन की हर घर जल योजना की समीक्षा बैठक में नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के प्रमुख सचिव की बड़ी कार्रवाई

• समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव की खरी-खरी, जमीन पर दिखे रिजल्ट वरना सख्त कार्रवाई के लिए रहें तैयार

• जल जीवन मिशन के तहत काम कर रहीं करीब आधा दर्जन एजेंसियाें पर एक-एक फीसदी का ठोका जुर्माना

•  समीक्षा बैठक में बिफरे नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के प्रमुख सचिव, जल निगम के इंजीनियरों को भी फटकार

• सप्ताह भर में गांव की सड़कें दुरुस्त नहीं हुई तो कर्रवाई की चेतावनी

लखनऊ। ग्रामीण इलाकों में पेयजल लाइन बिछा रही कम्पनियों को सड़क मरम्मत में कोताही महंगी पड़ गई। लापरवाही की कीमत कम्पनियों को करोड़ों में चुकानी पड़ी। जल जीवन मिशन की हर घर योजना के तहत गांव-गांव में बिछाई जा रही पाइप लाइनों को डालने के बाद सड़कों की मरम्मत में लापरवाही बरतने वाली एजेंसियों पर बुधवार को बड़ी कार्रवाई की गई।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग के प्रमुख सचिव अनुराग श्रीवास्तव ने समीक्षा बैठक में करीब आधा दर्जन कार्यदायी एजेंसियों पर करोड़ों का जुर्माना ठोका है। गोमतीनगर के किसान बाजार स्थित राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन कार्यालय में समीक्षा बैठक बड़े ही गंभीर माहौल में हुई। बैठक में जल निगम (ग्रामीण) के एमडी डॉ. बलकार सिंह, राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन के अधिशासी निदेशक बृजराज सिंह यादव भी मौजूद रहे।

सड़कों की मरम्मत में लापरवाह एजेंसियों पर करोड़ों का जुर्माना

विभागीय अधिकारियों के मुताबिक पाइप डालने के बाद सड़क मरम्मत में कोताही पर जालौन और झांसी में काम कर रही बीजीसीसी कम्पनी पर एक फीसदी जुर्माना लगाया गया। वाराणसी और प्रयागराज में एलएनटी पर एक फीसदी जुर्माना ठोका गया। मुज्जफरनगर और महाराजगंज में जेएमसी लक्ष्मी पर एक फीसदी का जुर्माना ठोका गया है। बीएसए इंफ्रा पर भी जुर्माना लगाया गया है। इस मामले में उन्होंने इंजीनियरों को भी जमकर फटकार लगाते हुए चेतावनी जारी की है।

👉होमगार्ड जवान प्रशासनिक ड्यूटी के साथ सामाजिक कार्यों में भी निभा रहे है अपनी महत्वपूर्ण भूमिका: धर्मवीर प्रजापति

समीक्षा बैठक के दौरान प्रमुख सचिव ने सड़क मरम्मत पर लापरवाह एजेंसियों और अफसरों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश देते हुए इसकी कमान जल निगम (ग्रामीण) के एमडी डॉ. बलकार सिंह को सौंपी है। बैठक में 75जिलों के अधिशासी अभियंता, बुंदेलखंड-विंध्य के एडीएम नमामि गंगे और आला अधिकारी मौजूद रहे। कार्यों की निगरानी के लिए तैनात टीपीआई एजेंसी सेंसिस के दो अधिकािरियों के खिलाफ प्रमुख सचिव ने तत्काल कार्यवाई कर सूचित करने के निर्देश दिये हैं।

कुशीनगर के 4 लापरवाह जेई होंगे बर्खास्त

सड़क मरम्मत में लापरवाह कुशीनगर के चार जेई बर्खास्त होंगे। अधिशासी अभियंता के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के साथ 6 संविदा इंजीनियरों के तबादले के निर्देश जारी भी किये गये हैं। सभी क्षेत्रीय मुख्य अभियंताओं, अधीक्षण अभियंताओं और अधिशासी अभियंताओं को सड़क मरम्मत और हर घर जल पहुंचने में सुस्ती पर चेतावनी भी दी गई है।

गांव की सड़कों का हाल जानने जल निगम ने उतारी अफसरों की टीम

सड़कों की दशा देखने जल निगम के अधिकारियों की टीम गांव-गांव पहुंच रही हैं। सड़कों के तेजी से मरम्मत और निगरानी के लिए राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन ने मुख्यालय स्तर से सभी मण्डलों के नोडल नामित करने के साथ ही गांव में पहुंचकर सड़कों का निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिये हैं।

About Samar Saleel

Check Also

वास्तुकला संकाय में “सोने की चिड़िया” का मंचन हुआ

• “भारत रंग महोत्सव” के 25 वें वर्ष के उपलक्ष्य में “जन भारत रंग” का ...