Breaking News

पहली बार खरीदने जा रहे हैं कार, तो जरुर जान ले ये ख़ास बाते

कौन सी कार अच्छी है कौन सी कम अच्छी है, इस बात का पता लगा पाना आसान नहीं होता. हम आपको बताते हैं कि आपको कार खरीदने के पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.

अगर आप भी पहली बार कार खरीदने जा रहे हैं तो यह आपके लिए बिल्कुल यूनीक एक्सपीरिएंस हो सकता है. कौन सी कार अच्छी है कौन सी कम अच्छी है, इस बात का पता लगा पाना आसान नहीं होता. घर के बाद कहीं न कहीं कार ऐसी चीज़ होती है जिस पर व्यक्ति निवेश करता है. दुबारा भी कार खरीदने जा रहे हैं तो भी आपको कुछ बातों पर ध्यान देना होगा. तो हम आपको बताते हैं कि आपको कार खरीदने के पहले किन बातों पर ध्यान रखना चाहिए-

अपना बजट निर्धारित करें-
सबसे पहले आपको इस बात को निर्धारित करना होगा कि कार खरीदने के लिए आपका बजट कितना है, यानी कि आप किसी कार को खरीदने के लिए कितना पैसा खर्च करना चाहते हैं. क्योंकि कार खरीदते वक्त सिर्फ इस बात का ध्यान नहीं रखना होता कि कार की कीमत कितनी है बल्कि इस बात का भी ध्यान रखना होता है कि कार का माइलेज कितना होगा. इसके अलावा उस पर लगने वाला रोड टैक्स, इंश्योरेंस का भी ध्यान रखना होगा. जैसे अगर मारुति एस प्रेसो की बात करें तो उसकी टैग प्राइस 3.69 लाख है जबकि ऑन रोड इसकी कीमत करीब 4.2 लाख रुपए पड़ती है.

Loading...

मॉडल निर्धारित करें- जब एक बार आपने अपना बजट निर्धारित कर लिया तो उसके बाद इस बात का फैसला लेना होता है कि कौन से मॉडल की कार खरीदनी है. मूल रूप से कारें चार तरह की बॉडी टाइप- हैचबैक, सेडान, एसयूवी और एमपीवी में आती है. इसके अलावा इसकी सब- कैटैगरीज़ भी होती हैं. अगर आप सात सीटों वाली एमपीवी खरीदते हैं और आपकी फैमिली छोटी है या रोज़ आप इसका यूज़ अकेले ऑफिस जाने के लिए करते हैं तो यह एक तरह से रिसोर्स की बर्बादी होगी. खैर, बाकी आप अपनी ज़रूरतों के हिसाब से कार खरीद सकते हैं.

डीज़ल या पेट्रोल कार-
आपको रोज़ कितना चलना है इसके आधार पर आपको डीज़ल या पेट्रोल कार लेनी चाहिए. आमतौर पर डीज़ल कारें पेट्रोल कारों की तुलना में एक लाख महंगी होती हैं. कैलकुलेशन के हिसाब से देखा जाए तो 90 फीसदी टाइम पेट्रोल कार खरीदना ही बेहतर होता है. फिर अब इलेक्ट्रिक कारों की तरफ भी लोगों का रुख हो रहा है. रीसेल वैल्यू-
कार खरीदते वक्त इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि उसकी रीसेल वैल्यू कितनी है. कार लोगों के लिए एक बड़ा इन्वेस्टमेंट है लेकिन बीतते सालों के साथ इसकी वैल्यू कम होती जाती है. एक उदाहरण से समझें तो आपको जानकर हैरत होगी कि 2010 के मर्सिडीज़ बेंज़ ई-क्लास, जिसकी कीमत 55 लाख रुपए है, उसे 10 लाख रुपये में खरीदा जा सकता है. तो हमें इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि जब भी हमारा कार बदलने का मौका हो तो हमें बड़ा नुकसान न हो.

कार खरीदने से पहले करें पूरी रिसर्च-
अब जब इस बात का फैसला हो गया कि कौन सी कार लेनी है और कितने पैसे खर्च करने हैं तो इसके बारे में पूरी रिसर्च करें. वैसे तो ऑनलाइन किसी कार के बारे में जानकारी इकट्ठा करने का तरीका अच्छा है लेकिन इसके बावजूद आप शोरूम पर जाकर सारी बातें पता करें और हो सके तो एक टेस्ट ड्राइव भी लें. फिर पूरी तरह से संतुष्ट होने पर ही कार खरीदें.

Loading...

About News Room lko

Check Also

ग्राहकों को जल्द मिलने वाली है प्याज की बढ़ती कीमतों से राहत

प्याज के बढ़े भाव के बीच एक सरकारी ऑफिसर ने आश्वस्त किया है कि ग्राहकों ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *