Breaking News

आईसीएआई और नेशनल पीजी कॉलेज ने छात्रों के बीच ज्ञान साझा करने के लिए एमओयू साइन किया

लखनऊ। द चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) इस बार 10 साल की जगह पांच साल में ही चार्टर्ड एकाउंटेंट का कोर्स बदलने जा रहा है। नया कोर्स आगामी वर्ष 2023 से लागू हो सकता है। यह जानकारी आज बुधवार को लखनऊ में आईसीएआई भवन में आयोजित नई शिक्षा नीति और प्रशिक्षण कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बोर्ड ऑफ स्टडीज के उपसभापति सीए विशाल दोषी ने दी।

आईसीएआई और नेशनल पीजी कॉलेज ने छात्रों के बीच ज्ञान साझा करने के लिए एमओयू साइन किया

उन्होंने बताया कि देश में नई शिक्षा नीति-2020 में लागू हो गई है। उसे देखते हुए और इन पांच सालों में तेजी से हुए बदलाव को देखते हुए संस्थान 10 की जगह पांच साल में ही अपना कोर्स बदलने जा रहा है। इसके लिए कमेटी फॉर रिव्यू ऑफ एजूकेशन एंड ट्रेनिंग (क्रेट) गठित की जा चुकी है। इस कमेटी ने एक पाठ्यक्रम तैयार किया है जिस पर 30 दिनों तक देशभर में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत मंत्रणा की जाएगी और सभी लोगों से सुझाव मांगे जाएंगे। यह प्रक्रिया आगामी वर्ष तक पूरी कर ली जाएगी।

विशिष्ट अतिथि सीए ज्ञान चंद्र मिश्रा ने बताया कि नए कोर्स में संस्थान ब्लॉक चेन, क्रिप्टो करेंसी, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, डाटा एनालिसिस जैसी तकनीकों को भी पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाने पर विचार कर रहा है। नए बदलाव में ज्यादा केस स्टडी आधारित और समझदारी पर आधारित प्रश्नों पर रहेगा। बदलाव फाउंडेशन से लेकर इंटरमीडिएट और फाइनल स्तर तक में होगा।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के उपरांत नेशनल पीजी कॉलेज और लखनऊ ब्रांच ऑफ सी आई आर सी आफ आईसीएआई के बीच एक एमओयू साइन किया गया जिसमें शिक्षा के क्षेत्र में हुए बदलाव को दोनों संस्थान परस्पर मिलकर छात्रों को नई शिक्षा नीति से अवगत कराएंगे इससे शिक्षा के क्षेत्र में नया आयाम हासिल करने में सहायता मिलेगी कार्यक्रम का आयोजन बोर्ड ऑफ स्टडीज द्वारा किया गया जबकि मेजबानी आईसीएआई की लखनऊ ब्रांच ने की।

इस अवसर पर नेशनल पीजी कॉलेज के प्रधानाचार्य देवेंद्र कुमार सिंह, ज्योति भार्गव, आईसीएआई लखनऊ ब्रांच के अध्यक्ष सीए आशीष कुमार पाठक, सीए आर एल बाजपेई, सीए संतोष मिश्रा,सीए अनुराग पांडे, सीए रवीश चौधरी, सीए अंशुल अग्रवाल, सीए शशांक मित्तल सहित 100 से अधिक सीए वह 150 से अधिक सीए विद्यार्थियों ने भाग लिया और नई शिक्षा नीति पर अपने विचार व्यक्त किए।

About reporter

Check Also

अपर मण्डल रेल प्रबन्धक ने 61 सेवानिवृृत्त रेल कर्मचारियों को दी भावभीनी विदाई

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें रेलवे के प्रति समर्पण, निष्ठा एवं अतुलनीय योगदान ...