Breaking News

राष्ट्रीय लोकदल के पूर्व प्रदेश पदाधिकारियों और नगर अध्यक्षों की आवश्यक बैठक सम्पन्न

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के पूर्व प्रदेश पदाधिकारियों, क्षेत्रीय, मण्डल, जिला, नगर अध्यक्षों की आवश्यक बैठक आज प्रदेश मुख्यालय पर प्रदेश अध्यक्ष रामाशीष राय की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी। बैठक के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी थे। बैठक में राष्ट्रीय सचिव अनिल दुबे एवं राष्ट्रीय सचिव ओंकार सिंह, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष मंजीत सिंह तथा कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कंवर हंसन प्रमुख रूप से उपस्थित थे। बैठक का संचालन प्रदेश सदस्यता अभियान प्रभारी सुरेन्द्रनाथ त्रिवेदी ने की।

राष्ट्रीय लोकदल के पूर्व प्रदेश पदाधिकारियों और नगर अध्यक्षों की आवश्यक बैठक सम्पन्न

बैठक में 1 मई से शुरू हुये सदस्यता अभियान को गतिशील बनाने पर विचार किया गया तथा एक स्वर से तय किया गया कि किसान मसीहा चौधरी चरण सिंह और श्रद्धेय चौधरी अजित सिंह की नीतियों को प्रदेश के सुदूर क्षेत्रों में गांव गांव तक पहुंचाते हुये बूथ स्तर तक सदस्यता अभियान को सफल बनाना है। बैठक के बाद आयोजित पत्रकार बन्धुओं को सम्बोधित करते हुये राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी ने कहा कि एक मई से दिल्ली से प्रारम्भ हुआ सदस्यता अभियान किसान मसीहा चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस 23 दिसम्बर तक अनवरत् जारी रहेगा और क्रियाशील सदस्य ही पार्टी के विभिन्न पदों पर पदाधिकारी बन सकेगे।

श्री त्यागी ने कहा कि वर्तमान सरकार अपराध के उन्मूलन का राग अलापकर सत्ता में आयी थी परन्तु आज प्रत्येक जनपद में चैन स्नैचिंग से लेकर अपहरण बलात्कार, हत्या, लूट और डकैती जैसे घृणित और जघन्य अपराधों की बाढ़ आ गयी है जिन पर कार्यवाही होना तो दूर रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की जाती है। ऐसा लगता है कि रामराज के स्थान पर रावणराज आ गया है जिसका खामियाजा प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने आगे कहा कि आज भाजपा का कोई भी नेता प्रिन्ट अथवा इलेक्ट्रिानिक मीडिया में विपक्ष एवं विपक्ष के पूर्वजों पर कितनी भी अभद्र भाषा का प्रयोग क्यों न करे, उसके खिलाफ भाजपा कोई भी कार्यवाही करने को तैयार नहीं है परन्तु यदि विपक्ष के किसी नेता से कोई वास्तविक टिप्पणी भी होती है तो उसे देशद्रोही की संज्ञा दी जाती है और मुकदमा कायम किया जाता है।

नुपूर शर्मा और नवीन जिंदल सिर्फ बानगी भर है। भाजपा के 20 ऐसे प्रवक्ता हैं जिन्होंने आधुनिक भारत के निर्माताओं की खिल्ली उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी परन्तु योगी और मोदी सरकार उनकी वाहवाही करती है। उन्होंने प्रदेष के मुख्यमंत्री को चेतावनी देते हुये कहा कि आप केवल एक वर्ग के मुख्यमंत्री नहीं है। हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई आदि सभी वर्गो पर समान रूप से व्यवहार करे और किसी भी वर्ग पर एकतरफा कार्यवाही उचित नहीं है जैसा कि आपकी एकतरफा कार्यवाही पिछली सरकार में उन्नाव और हाथरस में अपने लोगों को बचाने मंे असफल हो चुकी है और न्यायपालिका ने ही न्याय किया है और सरकार को मुंह की खानी पड़ी है।

उन्होंने कहा कि आजमगढ और रामपुर के उपचुनावों में गठबन्धन के प्रत्याशी को जिताने में राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्येक सदस्य और पदाधिकारी की भूमिका महत्वपूर्ण रहेगी। दिनांक 17 जून को राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयन्त सिंह और मै स्वयं आजमगढ़ जाऊँगा। प्रदेश अध्यक्ष रामाशीष राय अपने दल बल के साथ आज ही आजमगढ़ के लिए प्रस्थान कर रहे हैं। जहां प्रत्याशी धमेन्द्र यादव को जिताकर भाजपा को धूल चटायी जायेगी।

बैठक में पूर्व विधायक संतराम कुशवाहा, वसीम हैदर, सुरेश गुप्ता, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय महासचिव आरिफ महमूद, रामलखन यादव, नानकचन्द्र शर्मा, रजनीकांत मिश्रा, चौधरी भूपाल सिंह, विष्वेष्नाथ मिश्रा, मनोज सिंह चौहान, रामआसरे विश्वकर्मा, युवा रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रवीन्द्र पटेल, युवा रालोद के राष्ट्रीय महासचिव अम्बुज पटेल, युवा रालोद के राष्ट्रीय प्रवक्ता रोहित अग्रवाल, जयप्रकाश वर्मा, बी0एल0 प्रेमी, ममता शुक्ला, रमावती तिवारी, जितेन्द्र सिंह, विपिन श्रीवास्तव, राव कैसर सलीम, राजकुमार ओझा, इकराम सिंह, बेलाल अहमद, राकेश सिंह, शहनवाज खान, डाॅ अजीमुल्ला खां, चौधरी राम सिंह पटेल, शिव शंकर पाण्डेय, चन्द्रकांत अवस्थी, रणविजय मौर्य, एस0के0 श्रीवास्तव, डाॅ0 सत्येन्द्र सिंह, रामगोपाल चंदेल, महेश पाल धनगर, प्रमोद शुक्ला, शहजाद, शफीक सिददीकी, विनीत सिंह, सुमित सिंह, आमिर, संगीता, नन्दिनी, आदि लोग उपस्थित थे।

About reporter

Check Also

आज़मगढ़ चुनाव : निरहुआ की जीत से नए स्थानीय राजनीतिक समीकरण आये सामने

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Sunday, June 26, 2022 लखनऊ। आजमगढ ...